पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58461.291.35 %
  • NIFTY17401.651.37 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47394-0.41 %
  • SILVER(MCX 1 KG)60655-1.89 %

शनिदेव की शरण में सिंधिया, की पूजा, मांगा आशीर्वाद:केन्द्रीय मंत्री बोले थर्ड एसी के किराए में कराएंगे प्लेन में सफर

मुरैना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शनिदेव की उपासना करते केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया। - Money Bhaskar
शनिदेव की उपासना करते केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया।
  • सिंधिया के साथ भाजपा नेता भी पहुंचे शरण में

केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया अब शनिदेव की शरण में हैं। आज, वे मुरैना के ऐती ग्राम स्थित शनिदेव के मंदिर गए तथा वहां पर पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्होंने कहा कि वे अब पर्यटन को बढ़ावा देंगे। इसके लिए हवाई जहाज के किराए को सस्ता करेंगे। उन्होंने कहा कि वे रेल के थर्ड एसी के किराए में अब लोगों को हवाई जहाज का सफर कराएंगे, जिससे मुरैना सहित पूरे प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा मिल सके। आपको बता दें, कि इस वक्त केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया तीन दिवस के दौरे पर हैं। इस मौके पर उनके साथ भाजपा के पदाधिकारी भी मौजूद थे। पूर्व विधायक रघुराज कंसाना, गिर्राज दण्डौतिया सहित अन्य नेता मौजूद रहे। केन्द्रीय मंत्री सिंधिया सबसे पहले शनिदेव मंदिर पहुंचे। वहां हाथ-पैर धोकर वे मंदिर के अन्दर गए तथा वहां उन्होंने शनिदेव की दर्शन किए तथा पूजा अर्चना की। मंत्री सिंधिया लगभग आधा घंटे तक पूजा अर्चना करते रहे। उसके बाद वे बाहर निकले तथा कार्यकर्ताओं से मेल मुलाकात करते रहे।

शनिदेव की पूजा अर्चना करते मंत्री सिंधिया
शनिदेव की पूजा अर्चना करते मंत्री सिंधिया

ट्रेन के किराए में प्लेन का सफल
मंदिर पर मीडिया से चर्चा में केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि उनका पूरा प्रयास है कि वे मुरैना, ग्वालियर व आस-पास के जिलों में मौजूद पर्यटन स्थलों पर पर्यटन को बढ़ावा दें। उन्होंने बताया कि उन्हें मालूम है कि इस वक्त किराए बहुत अधिक बढ़े हुए हैं तथा इसका असर पर्यटन पर पढ़ा है। इसलिए उनका पूरा प्रयास रहेगा कि ट्रेन के थर्ड ऐसी के किराए में वह लोगों को प्लेन का सफर कराएं, जिससे लोग यहां आएंगे और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। आपको बता दें, कि मुरैना में मितावली, पढ़ावड़ी, ककनमठ व बटेश्वर सहित अन्य पर्यटन स्थल हैं जहां हर साल दूर-दूर के देशों से पर्यटक आते हैं।