पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

मुरैना में व्यापारी पर कार्रवाई:व्यापारी के यहां ग्राहक बनकर पहुंची पुलिस, 1200 की डीएपी दी 1670 में, गोदाम से एक हजार बोरी डीएपी जब्त

मुरैना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोदाम में कार्रवाई  करती पुलिस - Money Bhaskar
गोदाम में कार्रवाई करती पुलिस

मुरैना के अंबाह तहसील के सिहौनियां में पुलिस ने एक हजार बोरी खाद की जब्त की हैं। पुलिस आरोपी की दुकान पर सादा वर्दी में ग्राहक बनकर डीएपी की बोरी मांगी तो दुकानदार ने 1200 रुपए की जगह 1670 रुपए की दर से कीमत बताई। पुलिस ने पैसे देकर बोरी खरीद ली। तुरंत ही आस-पास मौजूद बल ने दुकान पर छापा मार दिया। छापा मारते ही दुकानदार के होश उड़ गए। उसके बाद पुलिस दुकान के नीचे बने गोदाम में पहुंची जहां लगभग एक हजार डीएपी व यूरिया खाद की बोरियां रखी हुई थी। देर रात की गई इस कार्रवाई से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। पुलिस ने सभी बोरियों को जब्त कर लिया है।

किसान खाद के लिए परेशान हो रहे हैं। सरकार उन्हें पर्याप्त खाद देने में असफल रही है। किसानों की फसल बर्बादी के कगार पर है। अपनी फसल को बचाने के लिए किसान खाद के लिए इधर उधर भटक रहा है। इसका पूरा फायदा मुनाफाखोर कालाबाजारी दुकानदारों ने उठाना शुरू कर दिया। उन्होंने खाद की बोरियों को ऊंचे दामों पर बेचना शुरू कर दिया। इस क्रम में सिहौनियां में मुख्य चौराहे पर चिन्टू तोमर नामक खाद विक्रेता द्वारा ब्लैक में खाद बेचा जा रहा था। दैनिक भास्कर ने 17 अक्टूबर को ही खाद की कालाबाजारी पर खबर दी थी, जिसके बाद पुलिस ने संज्ञान लिया।

सामने आया यह मामला
आपको बता दें, कि खड़ियार गांव निवासी किसान नवनीत तोमर ने बताया कि सिंहौनियां मुख्य मार्ग पर स्थित एक दुकान पर 1200 रुपए की डीएपी खाद की बोरी 1600 रुपए में बेची जा रही है। उन्होंने बताया कि वे 1600 रुपए प्रति बोरी के हिसाब से चार बोरी डीएपी खाद लेकर आए हैं। इसी प्रकार उनके गांव के सैकड़ों लोग डीएपी खाद की बोरियां इसी रेट पर खरीद कर लाए हैं। इसी प्रकार डोलीपुरा गांव निवासी केशव सिंह ने बताया कि वे उस दुकान से चार बोरी डीएपी की 1600 रुपए प्रति बोरी के हिसाब से लेकर आए हैं। इसी प्रकार एएसपी खाद की 7 बोरियां लेकर आए हैं। एएसपी खाद की बोरी उन्हें 1350 रुपए में दी गई है जबकि उसका शासकीय मूल्य 950 रुपए प्रति बोरी है।

छापे के दौरान गोदाम में मौजूद खाद की बोरियां
छापे के दौरान गोदाम में मौजूद खाद की बोरियां

450 बोरी डीएपी की, 500 बोरियां यूरिया की
सिहौनियां थाना पुलिस की माने तो गोदाम में 450 बोरी डीएपी की तथा 500 बोरी यूरिया खाद की रखी पाई गई है। एसके अलावा अन्य बोरियां पाई गई हैं। देर रात की गई इस कार्रवाई में पुलिस ने गोदाम से सभी बोरियां जब्त कर ली हैं।
पुलिस पर राजनैतिक दवाब
आपको बता दें, कि जिस व्यक्ति की दुकान है। उसके संबंध राजनैतिक आकाओं से जुड़े बताए जाते हैं। जैसे ही पुलिस ने छापा मारा, पुलिस पर राजनैतिक दवाब आना शुरु हो गया। कालाबााजारी का यह खेल पिछले 15 दिन से चल रहा था। किसान आ रहे थे और अधिक दर पर बोरियां खरीद कर ले जा रहे थे। इसके बावजूद कालाबाजारी के इस खेल पर पर्दा डला हुआ है।
सिहौनियां थाना प्रभारी पवन सिंह भदौरिया ने बताया कि उन्होंने छापा मारा है। छापे में उन्हें 450 बोरियां डीएपी खाद की तथा 500 बोरियां यूरिया खाद की व कुछ अन्य बोरियां मिली हैं। जब्ती की कार्रवाई चल रही है।