पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ममता शर्मा ने शराब पिलाकर बेटे को किया था ब्लैकमेल:मृतक सैंकी सिकरवार के पिता ने लगाए आरोप, कहा-मेरे बेटे को मारा गया है

मुरैना5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुरैना के यतेन्द्र उर्फ सैंकी सिकरवार आत्महत्या कांड में नया खुलासा हुआ है। मृतक के पिता ने रिटायर्ड डीएसपी महेन्द्र शर्मा की पत्नी ममता शर्मा पर आरोप लगाते हुए बताया, कि उसने उनके बेटे को शराब पिलाकर संबंध बनाए तथा उसके आधार पर वह उसे ब्लेकमेल करती थी। जब 20 लाख रुपए नहीं दिए तो सोशल मीडिया पर उसको बदनाम करने की धमकी दी। बदनामी से बचने के लिए मेरे बेटे ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घर के दरवाजे पर मौजूद गमगीन लोग। उनके बीच बैठे मृतक के पिता रामनरेश सिकरवार। बीतचीत के दौरान बीच-बीच में रो उठते हैं । घर के अन्दर सामने ही बैठक में रोती मृतक की मां, रोते हुए कहती कि उनके बेकसूर बेटे को ममता शर्मा ने मार डाला। रोने के दौरान कहती उनका बेटा अभी 22 साल का भी नहीं हुआ था। घर के अन्दर मां का रुदन और बाहर पिता का सिसकना, यह नजारा देखकर लोगों के मुंह से अनायास ही निकल रहा है कि, पैसे के लिए लोग कितना गिर सकते हैं।

मृतक सैंकी शिकरवार
मृतक सैंकी शिकरवार

57 वर्ष की ममता शर्मा को आंटी कहता था सैंकी
रामनरेश सिकरवार ने बताया कि ममता शर्मा गरीब लड़कियों की शादी करवाया करती है। इसलिए वर्ष 2018 में उसने एक बार 11 हजार, फिर 21 हजार, इस तरह कई बार दान के नाम पर ममता शर्मा उनके बेटे से रुपए ऐंठती रहती थी। एक बार वह उसे अपने साथ ग्वालियर महाराज बाढ़े ले गई। वहां से लौटते समय उसने उससे कहा कि आज देर हो गई है, तुम यही सो जाओ। रात में कोल्ड ड्रिंग में शराब मिलाकर उसे पिला दी। उसके बाद उसके आपत्तिजनक फोटो व वीडियो खींच लिए। फिर शुरु हुआ, ब्लेकमेल करने का सिलसिला। पहले सैंकी से कहा कि पांच लाख रुपए दो, जब सैंकी ने अपने पिता रामनरेश सिकरवार से पूरी बात बताते हुए कहा तो रामनरेश सिकरवार 5 लाख देने को तैयार हो गए। उसके बाद वह 20 लाख रुपए मांगने लगी। जब 20 लाख नहीं दिए तो ग्वालियर स्थित हजीरा थाने में उलटा ब्लेकमेल करने की रिपोर्ट लिखा दी।
बदनामी से बचने मार ली गोली
पिता ने बताया कि जब उसके बेटे ने यह सोचा कि अब पुलिस में रिपोर्ट हो गई है तथा टीवी चैनल व सोशल मीडिया पर उसकी बदनामी होगी तो उसने बदनामी से बचने के लिए गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने ममता शर्मा व महेन्द्र शर्मा पर आरोप लगाते हुए बताया कि उन लोगों को यह धंधा है तथा गरीब लड़कियों की शादी के नाम पर उनको बेचने का एक रैकेट है।

पिता रामनरेश सिंह सिकरवार
पिता रामनरेश सिंह सिकरवार

पूरा मामला संक्षेप में
बिरलानगर लाइन नंबर एक में रहने वाली 53 वर्षीय ममता शर्मा जो कि सामाजिक कार्यकर्ता हैं। वह लोगों के रिश्ते बनाने का काम भी करती हैं। इसी के चलते महिला की मुलाकात मुरैना निवासी शैंकी (22) पुत्र रामनरेश सिकरवार से हुई थी। इसके बाद शैंकी का महिला के घर आना-जाना शुरु हो गया। कुछ दिनों पहले यतेन्द्र उर्फ सेन्टी सिकरवार के खिलाफ रिटायर्ड डीएसपी महेन्द्र सिंह तथा उनकी समाज सेविका पत्नी ममता शर्मा ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए पुलिस को पूरी बात बताई थी। उन्होंने पुलिस को बताया था कि यतेन्द्र सिकरवार कहता था कि तुम्हारे कुछ फोटो और VIDEO मेरे मोबाइल में हैं, तुम मुझे जल्द से जल्द पांच लाख रुपए दे दों, रकम नहीं देने पर तुम्हारे फोटो-VIDEO एडिट कर फेसबुक व वाट्सअप पर वायरल कर दूंगा। बदनामी से बचना चाहती हो तो मेरी डिमांड जल्दी पूरी कर दो नहीं तो अंजाम दुनिया देखेगी। लगातार आरोपी से मिल रही धमकियों से परेशान उसने अपने पति के साथ थाना हजीरा थाना पहुंचकर शिकायत की थी। महिला ने पुलिस को बताया था कि आरोपी तीन महीने से मोबाइल पर परेशान कर रकम की डिमांड कर रहा है। उसके दो दिन बात यतेन्द्र उर्फ सैंकी सिकरवार ने मुरैना स्थित अपने ट्रांसपोर्ट कार्यालय में कट्‌टे से गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। इस घटना के बाद मृतक के पिता रामनरेश सिंह सिकरवार ने सिविल लाइन थाने में ममता शर्मा पत्नी महेन्द्र शर्मा के खिलाफ उनके बेटे को ब्लेकमेल करने व आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने फरियादी के आवेदन पर मामला दर्ज कर लिया है।
करोड़पति था यतेन्द्र सिकरवार
इस मामले में गौर करने वाली बात यह है कि यतेन्द्र उर्फ सैंकी सिकरवार, करोड़पति घर से है। उसके पिता की ट्रांसपोर्ट कंपनी है तथा कई बस व ट्रक हैं। मुरैना की सबसे पॉश कॉलोनी में उसका आलीशन घर बना हुआ है, ऐसे में ममता शर्मा के आरोप अनुसार वह पांच लाख रुपए की मांग क्यों करेगा? ममता शर्मा ने हजीरा थाने में लिखाई रिपोर्ट में बताया कि सैंकी सिकरवार से उसका परिचय तीन माह पहले ही हुआ था, जबकि मृतक के पिता रामनरेश सिंह सिकरवार की माने तो वर्ष 2018 से वह एक दूसरे को जानते थे। यतेन्द्र उसे आंटी कहकर पुकारता था तथा इस दौरान गरीब लड़कियों की शादी के नाम पर ममता उससे कई बार 11 व 21 हजार रुपए ले चुकी है। इस मामले में देखने वाली बात यह है कि मरने वाला करोड़पति है तथा वह स्वयं पूरा बिजनेस सम्हालता है तथा जिस ममता शर्मा ने ब्लेकमेल कर पांच लाख रुपए मांगने का आरोप लगाया है वह एक सामाजिक कार्यकर्ता तथा रिटायर्ड डीएसपी की पत्नी। पहली ही नजर में यह ममला अवैध संबंध व ब्लेकमेलिंग का है, जिसको लेकर हजीरा थाना पुलिस की कार्रवाई संदेह के घेरे में है। मुरैना सिविल लाइन थाना पुलिस ने दोनों पति पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। अब, इस हाईप्रोफाइल मामले में सिविल लाइन थाना पुलिस जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...