पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %

नाबालिग से रेप करने वाला गिरफ्तार:भागने की फिराक में था, पकड़े जाने पर पुलिस के पैर पकड़कर गिड़गिड़ाने लगा; बोला-गलती हो गई

मुरैनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Money Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

मुरैना में 13 साल की नाबालिग लड़की के साथ रेप करने वाला आरोपी बानमौर थाना पुलिस ने पकड़ लिया। आरोपी वीरेन्द्र सिंह कुशवाह उर्फ चंपतिया भागने की फिराक में था। वह घर से अपने कपड़े लेने आया था, उसी दौरान पुलिस ने उसे पकड़ लिया। जैसे ही पुलिस की पकड़ में आया पैर पकड़कर गिड़गिड़ाने लगा। कहने लगा, गलती हो गई माफ कर दो। पुलिस उसे थाने ले आई, वहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

आपको बता दें, कि दो दिन पूर्व कस्बे के रामेश्वर का पुरा गांव में आरोपी वीरेन्द्र सिंह कुशवाह उर्फ चंपतिया ने 13 वर्ष की नाबालिग के साथ बलात्कार कर दिया था। वीरेन्द्र सिंह कुशवाह उर्फ चंपतिया पहले से नाबालिग के घर आता-जाता था। उसकी नाबालिग के पिता से अच्छी दोस्ती थी। इस वजह से घर के सदस्य भी उस पर कोई ध्यान नहीं देते थे।

घटना वाले दिन नाबालिग के माता-पिता जिला अस्पताल मुरैना गए थे। इसके पीछे कारण यह था कि नाबालिग की भाभी छत से गिर पड़ी थी, जिससे वह जिला अस्पताल में भर्ती थी। माता-पिता के अस्पताल में होने से घर परे केवल नाबालिग और उससे छोटे दो भाई रह गए थे। आरोपी चंपतिया मौका देखकर दोपहर में घर में घुस आया। घर पर नाबालिग के दोनों भाइयों को उसने पैसे देकर बिस्किट खरीदने भेज दिया था।

दोनों छोटे भाई दूर स्थित दुकान पर बिस्किट लेने चले गए तथा नाबालिग घर में अकेली रह गई। इस बात का फायदा उठाते हुए वह नाबालिग को एकांत कमरे में ले गया तथा उसके साथ हैवानियत कर दी। उसके तुरंत बाद आरोपी चंपतिया वहां से भाग गया। शाम को जब नाबालिग के माता-पिता आए तब उसने उनको पूरी बात बताई। माता-पिता उसे लेकर बानमौर थाने पहुंचे जहां आरोपी के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कर लिया गया था। उसके बाद नाबालिग का मेडीकल जिला अस्पताल मुरैना में कराया गया।

पुलिस के पैर पकड़कर लगा गिड़गिड़ाने
थाना प्रभारी वीरेश कुशवाह के नेतृत्व में महिला एसआई पियूष राठौर के साथ अमला आरोपी के घर के पास छिप गया। आरोपी रात के अंधेरे का फायदा उठाकर घर में घुसा। पीछे से पुलिस ने उसे कालर पकड़कर दबोच लिया। जैसे ही पुलिस ने दबोचा आरोपी पुलिस के पैरों में गिरकर गिड़गिड़ाने लगा। कहने लगा कि उससे गलती हो गई है, माफ कर दो। पुलिस उसे लेकर थाने ले आई। जहां से आज उसे जेल भेज दिया गया है।

कपड़ा लेने आया था
बानमोर थाना प्रभारी वीरेश कुशवाह ने बताया कि हमें मुखबिर ने खबर दी कि आरोपी भागने की फिराक में था। घर पर कपड़े वगैरह लेने आएगा। सूचना पाते ही हम तुरंत घर के पास छिप गए। जैसे ही वह घर में घुसा हमने उसे दबोच लिया।

खबरें और भी हैं...