पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

बिना डायवर्सन के प्लाट बेचना पड़ा महंगा:पुलिस ने शिकायत के आधार पर कॉलोनाइजर पर दर्ज किया मामला, 5 लोगों से की गई थी ठगी

छिंदवाड़ा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में अवैध प्लाटिंग का खेल लंबे अर्से से चल रहा है, लेकिन वक्त-वक्त पर ही कार्यवाही हो पाती है। इस सालों पुराने मामले में भी अंततः कार्यवाही का चाबुक चल गया और फर्जी कॉलोनाईजर को जेल भेजा गया।जानकारी में सीएसपी मोतीलाल कुशवाह ने बताया कि नगर पालिका निगम आयुक्त हिमांशु सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि वार्ड क्रमांक 19 पातालेश्वर निवासी नरेन्द्र पिता प्रेमलाल माहोरे के द्वारा बिना डायवर्सन और विकास कीअनुमति लिए अवैध कॉलोनी का निर्माण किया गया और वहां प्लॉट बेचा गया।

शांति समिति की बैठक में समन्वय ना बनाना पड़ा भारी:नप गए SDM दीपक वैद्य, कलेक्टर ने किया छिंदवाड़ा में अटैच, अभिषेक सराफ को दी गई अमरवाड़ा की जबावदारी

पुलिस ने शिकायत पर मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि नरेन्द्र ने इस अवैध कॉलोनी का निर्माण करने के बाद करीब पांच लोगों को प्लॉट बेचा था, जो अब खुद को ठगा महसूसकर रहे हैं। निगम की लंबी चौड़ी अवैध कॉलोनाईजरों की इस लिस्ट में शामिल नरेन्द्र के खिलाफ पुलिस ने जांच के बाद रविवार देर रात धारा 420 भादवि और 292 (ग) 3 नगर पालिका अधिनियम 1956 के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। बता दें कि इसके पूर्व प्रशासन के द्वारा नरेन्द्र माहोरे के भाई के खिलाफ माफिया अभियान के तहत कार्यवाही कर उसका मकान तोड़ा गया था, जिसके बाद उसके खिलाफ ये दसरी बड़ी कार्यवाही की गई है।

खबरें और भी हैं...