पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अवैध खनन कर खिलाफ खनिज विभाग की कार्रवाई:तहसीलदार ने चपरन अवैध खदान पर मारा छापा, ट्रैक्टर-ट्रौली किए जब्त

छतरपुर (मध्य प्रदेश)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छतरपुर जिले के हरपालपुर थाना क्षेत्र में खनन माफिया बेखौफ हो गया है। खनिज संपदा का जमकर हानि पहुंचाते हुए दोहन किया जा रहा है। अवैध खनन की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद कलेक्टर संदीप जीआर नौगांव एसडीएम के निर्देश पर नौगांव तहसीलदार सुनीता साहनी ने अवैध खनन माफियाओं के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार कर लिया हैं। जिससे क्षेत्र में अवैध खनन माफियों में हड़कंप मच गया है।

जिला खनिज अधिकारी अमित मिश्रा के नेतृत्व में अवैध रेत परिवहन कर रहे ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त करने की कार्रवाई की गई। माइनिंग टीम की कार्रवाई से रेत माफियों में हड़कंप मच गया। खनिज टीम ने लहदरा घाट से अवैध बालू परिवहन कर ट्रैक्टर ट्रॉली को गलान रोड़ से पकड़ कर थाना पुलिस को सुपुर्द कर थाना परिसर में रखवा दिया। बुधवार दोपहर को नोगांव तहसीलदार सुनीता साहनी ने राजस्व पुलिस अमले के साथ थाना क्षेत्र के चपरन गांव में शासकीय ज़मीन पर चल रही रेत की अवैध खदान पर छापामार कार्रवाई की। मौके पर ट्रैक्टर ट्रॉली नहीं मिले।

तहसीलदार ने मौके से अवैध खनन मशीनों से करने के साक्ष्य मिले जिस बाद राजस्व अमले शासकीय खसरा नम्बर 1868, 2005, 2006, 2007 में अवैध उत्खनन होना पाया। जिसके बाद ग्रामीणों से मौके पर जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि पंचम उर्फ छुट्टू के द्वारा इस अवैध खदान का संचालन किया जा रहा था। मौके पर तहसीलदार ने हल्का पटवारी अवधेश मिश्रा, आशीष पांडेय ने बताया कि पंचनामा करने के बाद अवैध खनन करने वालों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी।

तहसीलदार ने बताया कि 3000 हजार धन मीटर खनन होना पाया गया। ​​​​​​ गौतरलब है कि चपरन गांव लम्बे समय से शासकीय ज़मीन मिट्टी का अवैध उत्खनन किया जा रहा था। जिसके बाद इन रेत माफियों द्वारा नकली रेत बना कर बेचे जा रही था। तहसीलदार राजस्व अमले व पुलिस के साथ दबिश दी। इसके बाद तहसीलदार ने लहदरा घाट पर भी कार्यवाही के दौरान मौके पर कुछ नहीं मिला।

खबरें और भी हैं...