पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Vidisha
  • Seeing The Mother Suffering, The Son Called The Doctor, In Anger, The Doctor Ran To The Hospital And Beat Him With A Stick

विदिशा के लट्‌ठबाज डॉक्टर का VIDEO:मां को तड़पता देख बेटे ने इलाज के लिए आवाज लगाई, डॉक्टर ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

विदिशा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विदिशा के गंजबासौदा में एक डॉक्टर ने युवक को दौड़ा-दौड़ाकर डंडे से पीट दिया। डॉक्टर ने अभद्रता भी की। युवक अपनी मां का इलाज कराने सरकारी अस्पताल आया था। मां को तड़पता देख डॉक्टर से इलाज करने का कहा तो वह भड़क गया। इसका वीडियो वायरल हो गया। मारपीट काे लेकर बीएमओ ने आरोपी डॉ. धनेश मिश्रा को नोटिस जारी किया तो उसने चेंबर में आकर नोटिस फाड़ा। फिर टेबल पर फेंक दिया।

वीडियो में डॉक्टर डंडा लेकर युवक के पीछे दौड़कर पीटते हुए दिख रहा है। दूसरे वीडियो में डॉक्टर अभद्रता करते दिख रहा है। इस मामले में डॉक्टर का कहना है कि रविवार रात 12 बजे कपिल यादव और आकाश शर्मा ने अभद्रता की और फोन पर धमकाया। इसकी शिकायत लिखित रूप में पुलिस से की गई है। उन्होंने खुद को युवक कांग्रेस का कार्यकर्ता बताया था।

डॉक्टर को डंडा लेकर दौड़ता देख अस्पताल में अफरातफरी मच गई।
डॉक्टर को डंडा लेकर दौड़ता देख अस्पताल में अफरातफरी मच गई।

पीड़ित दीपक यादव ने बताया कि मां की तबीयत खराब हाेने पर उन्हें अस्पताल लेकर आया था। यहां काफी देर तक कोई डॉक्टर नहीं आया तो हम उन्हें तलाशने गए। इस दौरान मां को तकलीफ बढ़ गई। इस पर हम डॉक्टर को आवाज लगाने लगे। काफी बुलाने पर ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर आए, लेकिन हम पर भड़क गए। उन्होंने मरीज को देखे बिना ही विदिशा जिला अस्पताल रैफर करने की बात कही। हमने कारण पूछा तो गाली देते हुए मारपीट पर उतारू कर दी। उन्होंने डंडे से हम हमला कर दिया।

नशे में मरीज का सही उपचार नहीं किया
पीड़ितों ने कलेक्टर के नाम नायब तहसीलदार दोजीराम अहिरवार को ज्ञापन सौंपा। इसमें डॉ. संकुल जैन पर आरोप लगाया कि उन्होंने ड्यूटी के दौरान नशे की हालत में मरीज का सही उपचार नहीं किया। परिजन ने विरोध किया तो उन्होंने वहां मौजूद डॉ. धनेश मिश्रा के साथ मिलकर हमला किया। उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। कार्रवाई नहीं हुई तो वे कलेक्ट्रेट पर धरना देंगे।

डॉक्टरों की कमी से अटैच किया है मिश्रा को

बीएमओ डॉ. रविंद्र चिढ़ार ने संबंधित डॉक्टर को नोटिस जारी किया। नोटिस मिलने के बाद डॉ. मिश्रा बीएमओ के चैंबर में पहुंचे। नोटिस फाड़कर उनके टेबल पर फेंक दिया। बोले- कोई नोटिस नहीं मानता। जो करना है कर लेना। डॉ. मिश्रा की मूल पदस्थापना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कुल्हार में है। वे अस्पताल परिसर के क्वार्टर में ही रहते हैं। डॉक्टरों की कमी के कारण उनको शासकीय राजीव गांधी जन चिकित्सालय में अटैच किया गया है।

मारपीट करने के बाद डॉक्टर परिजन से बहस करते रहे।
मारपीट करने के बाद डॉक्टर परिजन से बहस करते रहे।

माफी नहीं मांगी तो युवक कांग्रेस करेगी आंदोलन
युवक कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष सौरभ दुबे ने कहा कि संगठन का कोई कार्यकर्ता अपनी मां को लेकर उपचार कराने नहीं गया था। डॉक्टर द्वारा संगठन को लेकर की गई टिप्पणी बेहद निंदनीय है। डाॅक्टर पर कार्रवाई की मांग करते हैं। संबंधित डॉक्टर माफी मांगे। यदि अस्पताल प्रबंधन कार्रवाई नहीं करता तो आंदोलन करने पर विवश होंगे।

कार्रवाई की जा रही है, CMHO को पत्र लिख रहे हैं

  • गंजबासौदा BMO डॉ. रविंद्र चिढ़ार का कहना है कि वीडियो मिल गए हैं। इस संबंध में कार्रवाई की जा रही है। मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी को भी इस संबंध में पत्र लिखा जा रहा है।
  • CMHO डॉ. अखंड प्रताप सिंह का कहना है कि संज्ञान में मामला आया है। वीडियो भी आ गए हैं। खुद गंजबासौदा जा रहा हूं, मामले की जांच के बाद की जाएगी। गंजबासौदा एक महत्वपूर्ण जगह वहां के अस्पताल से काफी ग्रामीण क्षेत्र जुड़े हैं। वहां की व्यवस्था शीघ्र दुरुस्त की जाएगी।
खबरें और भी हैं...