पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

एक दिन में अलग-अलग रोग के 65 बच्चे भर्ती:बच्चों में निमोनिया, सर्दी, खांसी, तेज बुखार और ऑक्सीजन की कमी के कारण सांस लेने में आ रही दिक्कत

राजगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में भर्ती बच्चों के परिजनों से बातचीत करते कलेक्टर हर्ष दीक्षित। - Money Bhaskar
जिला अस्पताल में भर्ती बच्चों के परिजनों से बातचीत करते कलेक्टर हर्ष दीक्षित।

विशेषज्ञ लगातार कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जताते आ रहे हैं। उसके बावजूद MP के राजगढ़ के जिला अस्पताल में तीसरी लहर की तैयारी अभी तक पूरी नहीं हुईं। न तो बच्चों के लिए आईसीयू वार्ड शुरू हो पाया है और न ही बच्चों के डॉक्टरों की कमी पूरी की गई है। पिछले एक सप्ताह से बच्चों में वायरल फीवर के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं।

जिला अस्पताल में बीमार बच्चे को गोद में लेकर बैठी महिला।
जिला अस्पताल में बीमार बच्चे को गोद में लेकर बैठी महिला।

अब तक 7 बच्चे रैफर किए जा चुके हैं

बच्चों में निमोनिया के अलावा सर्दी, खांसी, तेज बुखार और ऑक्सीजन की कमी से सांस लेने में दिक्कत के मामले शामिल हैं। साेमवार को जिला अस्पताल में 65 बच्चे भर्ती किए थे, जिनमें से 8 बच्चों को ऑक्सीजन की कमी आ रही थी, जिन्हें ऑक्सीजन लगाई गई व अब तक 7 बच्चे रैफर किए जा चुके हैं। जिला अस्पताल के शिशुरोग विशेषज्ञ के मुताबिक इन 8-10 दिनों में 50 से 60 बच्चों को ऑक्सीजन की कमी आई है, जिन्हें ऑक्सीजन लगाई गई है। कुछ बच्चों को 10 घंटे कुछ को 3 दिन तक ऑक्सीजन लगानी पड़ी। अभी भी एक बच्चा ऐसा भर्ती है, जिसे लगातार ऑक्सीजन पर ही रखना पड़ रहा है। उसे रैफर भी कर रहे हैं, पर उसके परिजनों की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं कि वह बड़े शहर में बच्चों का इलाज करा सकें। हालांकि यह अभी राहत है कि किसी बच्चे की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव नहीं आई है।

कलेक्टर खुद जिला अस्पताल पहुंचे

जिला चिकित्सा अधिकारी के मुताबिक 20-25 सितंबर तक बच्चों के आईसीयू का काम पूरा होकर हेंडओवर होने की संभावना है। बच्चों के आईसीयू के लिए बच्चों के डॉक्टर की कमी रहेगी है, जिससे समस्या आ सकती है, जिसके लिए डिमांड भेजी है। वहीं जिला अस्पताल में बीमार बच्चों को देखने राजगढ़ कलेक्टर हर्ष दीक्षित खुद जिला अस्पताल पहुंचे।

खबरें और भी हैं...