पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • When The Postman Went To Give The Notice, The Relatives Said That He Was Dead, If The Wife Found Out Then She Was Alive

भरण-पोषण न देना पड़े इसलिए बहानेबाजी:पोस्टमैन नोटिस देने गया तो परिजनों ने कहा वाे ताे मर गया, पत्नी ने पता किया तो जिंदा

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिला ने इंदौर कोर्ट में परिवाद दाखिल किया है। - Money Bhaskar
महिला ने इंदौर कोर्ट में परिवाद दाखिल किया है।

पत्नी को भरण-पोषण न देना पड़े, इसके लिए पति और उसके परिजनों द्वारा कोर्ट में कई तरह के बहाने बनाने का केस सामने आया हैं। इसमें पति के परिजनों ने नोटिस लेने के बजाए नोटिस पर लिख दिया- महिला का पति मर गया है। यह सुनकर पत्नी सकते में आ गई। मामले में जब उसने जानकारी ली तो पता चला कि पति जिंदा है। कोर्ट को गुमराह करने के लिए यह बात लिखी गई।

भाई संस्था के कोआर्डिनेटर जकी अहमद ने बताया कि भरण-पोषण और प्रताड़ना के मामले में पति ने खुद को मरा बता दिया। पोस्टमैन की टीप के बाद महिला ने जानकारी ली तो पता चला पति जिंदा है। इस पर महिला ने इंदौर कोर्ट में परिवाद दाखिल किया। इसमें उसने बताया कि उसके पति ने नोटिस न लेने के चलते उसे और कोर्ट को गुमराह किया है।

इस मामले में पति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। हालांकि कोर्ट ने महिला के द्वारा लगाए गए परिवाद को खारिज कर दिया है। काेर्ट का कहना था कि अनावेदक ने संबंधित नोटिस का कहीं कूट रचित प्रयोग नहीं किया।

अपनी बात कहना थी आवेदन में

विधिक विशेषज्ञ आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि मामले में अनावेदक ने कई तरह की धाराओं के तहत प्रकरण में कार्रवाई की मांग की थी। लेकिन परिवादी की वकील ने मामले को संज्ञान में लेने के लिए तर्क प्रस्तुत किया था। इसकी वजह से यह परिवाद खारिज हुआ।

डाक न लेने के संबंध में बनाते हैं बहाने

कुटुंब न्यायालय से जब भी कोई नोटिस पति को पहुंचता है तो प्रकरण टालने के उद्देश्य से डाक न लेने के लिए कई तरह की बातें सामने आई हैं। अपनी टीप के साथ पोस्टमैन समन वापस कोर्ट को भेज देता है। अब जब तक नोटिस प्राप्त नहीं होता, कोर्ट कार्यवाही शुरू नहीं करती। अब नोटिस डिजिटल मोड पर दिया जाने लगा है। पोस्टमैन के द्वारा हमेशा लिखी जाने वाली टीप।

  • नोटिसग्राहिता घर पर नहीं
  • ताला मिला
  • हम नोटिस नहीं लेते पता नहीं क्या भेजा है।
खबरें और भी हैं...