पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59005.270.88 %
  • NIFTY175620.95 %
  • GOLD(MCX 10 GM)463320.4 %
  • SILVER(MCX 1 KG)602350.53 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhopal Toppers Said – There Was Tension Due To Lack Of Examination, But Happy With The Result; Competition Will Increase Due To High Marks, There Will Be Trouble In Admission In A Good College

CBSE 12वीं रिजल्ट के बाद छात्रों के लिए चैलेंज:टॉपर्स बोले- परीक्षा न होने से तनाव था, लेकिन रिजल्ट से खुश; मार्क्स हाई होने से कॉम्पिटिशन बढ़ेगा, अच्छे कॉलेज में एडमिशन में होगी परेशानी

भोपाल2 महीने पहलेलेखक: अनूप दुबे
  • कॉपी लिंक
भोपाल में डीपीएस की ऑर्ट्स की टॉपर ईशिका कनोत्रा के 99.2% अंक आए हैं। - Money Bhaskar
भोपाल में डीपीएस की ऑर्ट्स की टॉपर ईशिका कनोत्रा के 99.2% अंक आए हैं।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने शुक्रवार को 12वीं बोर्ड का रिजल्ट जारी कर दिया। भोपाल के टॉपर्स रिजल्ट के बाद खुश नजर आए। उनका कहना है कि उम्मीद के अनुसार रिजल्ट बना है। हां, परीक्षा नहीं होने का दुख जरूर है, लेकिन अब आगे बढ़ना है। टॉप करने वाले कुछ बच्चों का मानना है कि परीक्षा नहीं होने के कारण वे कई विषय में अच्छा नहीं कर पाए। ऐसे में उनका रिजल्ट उम्मीद के अनुसार नहीं हो सका। MP और CBSE बोर्ड में सभी को हाई मार्क्स मिलने के कारण अब कॉम्पिटिशन बढ़ जाएगा। इससे CBSE वाले बच्चों के लिए चैलेंज बढ़ जाएगा। अच्छे कॉलेज में एडमिशन के लिए कट ऑफ लिस्ट बहुत हाई हो जाएगी। इससे अब उन्हें किसी दूसरे कॉम्पिटिशन परीक्षा की तैयारी करने पर विचार करना होगा।

ईशिका कनोत्रा : ऑटर्स 99.2%

डीपीएस स्कूल की छात्रा ईशिका ने बताया कि यह रिजल्ट 3 साल की मेहनत का नतीजा है। इसी कारण उम्मीद के अनुसार मार्क्स आए हैं। हां, एग्जाम नहीं देने के कारण तनाव था। यह भी आशंका थी कि ऐसा ना हो कि रिजल्ट बेहतर ना रहे, लेकिन 3 साल से लगातार मैं अच्छा कर रही थी। इसी कारण आज मेरा रिजल्ट अच्छा आया है। अब कॉम्पिटिशन बढ़ जाएगा, लेकिन हमें आगे के लिए जाना है। उसी के अनुसार मैं तैयारी करूंगी। दूसरी बार परीक्षा देने का सवाल ही नहीं होता है।

सेलिना श्रीवास्तव : कॉमर्स 99.2%

डीपीएस स्कूल की छात्रा सेलिना श्रीवास्तव रिजल्ट से खुश हैं। सेलिना ने कहा कि काफी पढ़ाई की थी। पहले से ही इंटरनल एग्जाम और दूसरे एग्जाम को गंभीरता से लेकर उसके अनुसार ही प्रिपरेशन की थी। उसी के आधार पर रिजल्ट बना है। मैं इससे बहुत खुश हूं। अब आगे इकोनाॅमिक से किसी अच्छे कॉलेज में पढ़ना चाहती हूं। इसके लिए दिल्ली या मुंबई के कॉलेज में ट्राइ करूंगी। जो बीत गया, उस पर ध्यान नहीं है। अब फ्यूचर पर ध्यान है।

नंदिनी झा : पीसीबी 98.2%

सागर पब्लिक स्कूल छात्रा नंदिनी झा भी रिजल्ट से खुश हैं, लेकिन उनका कहना है कि इससे भी बेहतर कर सकती थी। कुछ विषय में 100 में से 100 आने की उम्मीद थी, लेकिन एग्जाम नहीं होने के कारण ऐसा नहीं हो सका। ठीक है, जो भी रिजल्ट आया है। वह मेरी उम्मीदों के अनुसार है। मैं बहुत खुश हूं।

नंदिता जालोरी : कॉमर्स 98.2%

सागर पब्लिक स्कूल की छात्रा नंदिता जालोनी ने कहा कि पछतावा नहीं है, लेकिन एग्जाम होता तो और बेहतर कर सकते थे। दोबारा एग्जाम देने का सवाल ही नहीं उठता, क्योंकि समय बर्बाद होगा और आगे की तैयारी नहीं कर पाऊंगी। अब मेरा फोकस अपने फ्यूचर पर है। उसी को लेकर तैयारी कर रही हूं।

मीमांसा मिश्रा : पीसीबी 96%

मदर टेरेसा स्कूल छात्रा मीमांसा मिश्रा ने कहा कि रिजल्ट अच्छा आया है। अब दोबारा परीक्षा नहीं दूंगी। ठीक से पढ़ाई की थी। पूरे साल स्कूल नहीं लगने पर भी नियमित पढ़ाई की। ऑन लाइन क्लास से ज्यादा तैयारी हो नहीं हो पाई, लेकिन शिक्षकों के टच में रहने का फायदा मिला है।

स्कूलों के रिजल्ट की स्थिति

डीपीएस स्कूल के टॉपर
डीपीएस स्कूल के टॉपर
सागर पब्लिक स्कूल
सागर पब्लिक स्कूल
कैंपियन स्कूल
कैंपियन स्कूल
सेंट जॉर्ज को-एड स्कूल
सेंट जॉर्ज को-एड स्कूल
खबरें और भी हैं...