पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • The District Administration Confiscated Sweets And Eatables From The New Famous Juice Corner Of Asheka Guard; SDM And Police Administration On The Spot

भोपाल में खाद्य विभाग की कार्रवाई:न्यू फेमस जूस कॉर्नर सील; फफूंद लगी मिठाई से लेकर जूस में कलर, सड़े फल, कोल्ड ड्रिंक्स व बिस्किट एक्सपाईरी डेट के मिले, किचिन में मुंह छिपाते दिखे कर्मचारी

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खाद्य विभाग को कुछ इस तरह मिठाईयां और कोल्ड ड्रिंग्स मिली। - Money Bhaskar
खाद्य विभाग को कुछ इस तरह मिठाईयां और कोल्ड ड्रिंग्स मिली।

भोपाल में जिला प्रशासन की टीम ने खाद्य विभाग के साथ जब न्यू फेमस जूस कॉर्नर नाम के रेस्टोरेंट पर रविवार दोपहर छापा मारा, तो सब दंग रह गए। फफूंद लगी मिठाई से लेकर जूस में कलर, सड़े फल, एक्सपाईरी डेट के बिस्किट और अन्य सामान बड़ी मात्रा में मिले। कोल्ड ड्रिंक्स की बोतल तक में फफूंद मिली है। घर में उपयोग होने वाले घरेलू गैस सिलेंडर का उपयोग किया जा रहा था। इसके बाद सभी के सैंपल लेकर उन्हें जांच के लिए भेज दिया। रेस्टोरेंट के खिलाफ कई दिनों से शिकायतें मिल रहीं थी। कार्रवाई के बाद टीम ने रेस्टोरेंट को सील कर दिया।

गोविंदपुरा एसडीएम मनोज वर्मा ने बताया कि 80 फीट रोड, अशोका गार्डन स्थित न्यू फेमस जूस कॉर्नर रेस्टोरेंट के खिलाफ कई दिनों से शिकायतें मिल रही थीं। खाद्य विभाग के अधिकारियों के साथ रविवार को रेस्टारेंट पर छापा मारा। यहां पर बड़ी मात्रा में एक्सपाईरी और फफूंद लगी मिठाईयां मिली हैं। इसके अलावा खराब फल मिले। इसका ही जूस लोगों को पिलाया जा रहा था। रेस्टारेंट से रंग भी मिले हैं। अन्य कई पैक्ड फूड की एक्सपाईरी निकलने के बाद भी बेचे जा रहे थे।सभी सामान को जब्त कर लिया है।

किचिन का भी निरीक्षण किया

टीम ने पूरे रेस्टोरेंट के एक सामान और किचिन का निरिक्षण किया। इस दौरान किचिन में कुछ कर्मचारी मुंह छिपाते नजर आए। टीम को जांच में वर्तन गंदे मिले हैं। रेस्टोरेंट के मालिक का नाम मोहम्मद साजिद बताया जाता है। टीम ने मौके से खुले खाने-पीने के सामान के साथ ही पैक्ड फूड भी जब्त किया।

इन फलों का जूस निकाला जाता था।
इन फलों का जूस निकाला जाता था।

पुलिस की मेहरबानी हमेशा रही

इसके खिलाफ कई दिनों से शिकायतें मिल रहीं थी। यह सिर्फ रेस्टोरेंट में खाने को लेकर नहीं थी, बल्कि अन्य तरह की भी थीं। जैसे लेट नाइट तक दुकान का खुला रहना। गाड़ियों का मुख्य सड़क पर ही पार्क होना। इससे ट्रैफिक भी बाधित होता था, लेकिन पुलिस कभी कार्रवाई नहीं करती नजर आई।

एक्सपाईरी सामपन और घरेलू सिलेंडर भी जब्त।
एक्सपाईरी सामपन और घरेलू सिलेंडर भी जब्त।

अब आगे क्या

सरकार ने मिलावटी और खराब खाने को लेकर सख्त कानून बनाए हैं, लेकिन अभी तक किसी के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की गई। खाद्य विभाग सैंपल जब्त कर जांच के लिए भेज देगी। खाद्य विभाग की सैंपल जांच की गति इतनी धीमी रहती है कि पूरा मामला बाद में ठंडे बस्ते में चला जाता है।

इसी रेस्टोरेंट पर कार्रवाई की गई।
इसी रेस्टोरेंट पर कार्रवाई की गई।
खबरें और भी हैं...