पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %

मनरेगा में जातिगत भुगतान:डेढ़ माह में एससी-एसटी को मिला पैसा, 22 लाख ओबीसी-सामान्य को नहीं

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस साल अप्रैल से जुलाई तक दिया गया पैसा, अगस्त से शुरू हुई कटौती। - Money Bhaskar
इस साल अप्रैल से जुलाई तक दिया गया पैसा, अगस्त से शुरू हुई कटौती।
  • अभी तीन श्रेणियों में सरकार दे रही पैसा

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी एक्ट (मनरेगा) में भुगतान भी अब जाति को देखकर किया जा रहा है। मप्र में पिछले डेढ़ माह में मनरेगा के तहत काम करने वाले श्रमिक परिवारों में सिर्फ अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) को ही पैसे का भुगतान हुआ, ओबीसी-सामान्य वर्ग को नहीं। इस वर्ग में 22 लाख परिवार हैं।

मनरेगा में नई व्यवस्था के तहत अब भुगतान तीन श्रेणियों में किया जा रहा है। अजा, अजजा और अन्य वर्ग। इस अन्य वर्ग में ओबीसी और सामान्य वर्ग आते हैं। केंद्र सरकार पब्लिक फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) व्यवस्था के तहत मनरेगा के श्रमिकों को सीधे खाते में पैसा डालती है, लेकिन सितंबर से अभी तक अन्य श्रेणी में पैसा जारी नहीं हुआ। जबकि अजा-अजजा का भुगतान किया गया।

जानकारी के अनुसार इस साल अन्य वर्ग को सर्वाधिक 678 करोड़ का भुगतान जुलाई के महीने में हुआ है। अगस्त के महीने से कटौती शुरू हो गई। सितंबर-अक्टूबर में 90 फीसदी से ज्यादा को पैसा नहीं मिला। इस साल मप्र में मनरेगा के श्रमिकों को कुल 3 हजार 266 करोड़ का भुगतान हुआ है।

खबरें और भी हैं...