पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

थप्पड़बाज सचिव की हरकत पर फूटा छात्राओं का गुस्सा:छात्राएं बंगले के बाहर ऑनलाइन एग्जाम की मांग करती रहीं; मंत्री बोले- कॉलेज आकर ही परीक्षा देना होगा

भोपाल4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव के सचिव का छात्रों को थप्पड़ जड़ने की धमकी के जवाब में भोपाल के नूतन कॉलेज में छात्राओं ने हंगामा किया। प्रबंधन से बात नहीं बनने के बाद छात्राएं मंत्री यादव के बंगले पर पहुंच गईं। छात्राएं ऑनलाइन एग्जाम की मांग करते हुए नारेबाजी करती रहीं। इधर, मंत्री ने कुलपति के साथ हुई बैठक के बाद ऑफलाइन परीक्षा ही लिए जाने का निर्णय कर दिया।

सभी कुलपति ने कहा कि ऑफलाइन परीक्षा की पूरी तैयारी कर ली गई है। किसी तरह की कोई परेशानी नहीं है। यह तय समय कोरोना गाइड लाइन के साथ कराई जा सकती है। इस कारण छात्रों को कॉलेज और यूनिवर्सिटी आकर परीक्षा देना होगा। अगर कोई छात्र संक्रमित होता है, तो वह बाद में भी परीक्षा दे सकता है। उसे प्रबंधन को कोरोना पॉजिटिव होने का मेडिकल सर्टिफिकेट देना होगा। वह 10 दिन बाद परीक्षा में शामिल हो सकेगा।

इससे पहले मंगलवार को बड़ी संख्या में छात्राएं एग्जाम का बहिष्कार करते हुए धरने पर बैठ गईं थी। कई छात्राओं और प्रोफेसर के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद छात्राओं का गुस्सा फूट। उन्होंने कॉलेज प्रबंधन पर जानबूझकर जबरन ऑफलाइन परीक्षा दिलाने के लिए दबाव बनाने के आरोप भी लगाए। छात्राओं ने नारेबाजी की। साथ ही, ऑनलाइन परीक्षा नहीं होने पर एग्जाम नहीं देने तक की धमकी दी। सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने छात्राओं को समझाते हुए धरना खत्म करने को कहा, लेकिन छात्राएं डटी रहीं।

मजबूरी में प्रबंधन की तरफ से कुछ प्रोफेसर बाहर आईं। छात्राओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि पहले ही ऑनलाइन एग्जाम किए जाने को लेकर एप्लिकेशन दी थी। उस पर निर्णय नहीं लिया गया। कई छात्राएं पहले ही संक्रमित हैं, लेकिन उन्हें मजबूरी में परीक्षा देना पड़ रही है।

इसलिए ज्यादा खतरनाक

छात्रा अंजलि ने कहा कि उनकी साथ की एक छात्रा को कोरोना हो गया है। उसके बाद भी वह परीक्षा देने आ रही है। इसके अलावा, कई छात्राओं ने पुलिस आरक्षक परीक्षा का भी फॉर्म भरा है। इस कारण कोई कोरोना टेस्ट नहीं कराना चाहता। क्योंकि अगर वे पॉजिटिव निकलती हैं, तो उसे परीक्षा नहीं देने दिया जाएगा।

छात्राओं का उच्च शिक्षा मंत्री के बंगले पर कूच

प्रबंधन से बातचीत से हल नहीं निकलने के कारण छात्राएं पैदल ही कॉलेज से उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव के बंगले की तरफ निकल गईं। एक दिन पहले ही मंत्री के बंगले पर छात्राओं को उनके निज सचिव थप्पड़ दिखाते नजर आए।

MP के मंत्री का थप्पड़बाज सचिव:शिक्षामंत्री मोहन यादव से मिलने पहुंचे छात्रों पर भड़के, थप्पड़ दिखाते हुए कहा- एक खींचकर दूंगा ###