पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • After Repairing The 8 Km Long Track, It Was To Start In January, Postponed Due To Corona; Will Start Now After April

वन विहार में अभी शुरू नहीं होगी नाइट सफारी:8 Km लंबे ट्रैक को सुधारने के बाद जनवरी में होनी थी शुरुआत, कोरोना के चलते टली; अब अप्रैल बाद शुरू करेंगे

भोपाल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल के वन विहार नेशनल पार्क में अभी नाइट सफारी शुरू नहीं होगी। कोरोना के बढ़े संक्रमण के चलते पार्क मैनेजमेंट ने नाइट सफारी की शुरुआत फिलहाल टाल दी है। 8 Km लंबे ट्रैक को सुधारने के बाद नाइट सफारी 15 जनवरी से शुरू करने का प्लान था।

राजधानी भोपाल में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 1 हजार पार पहुंच चुका है। जनवरी में ही करीब 7 हजार पॉजिटिव केस मिल चुके हैं। इसका साइड इफेक्ट नाइट सफारी पर भी पड़ा है। पार्क मैनेजमेंट ने टूरिस्टों की सेहत को देखते हुए नाइट सफारी कैंसिल कर दी है।

38 दिन ही हुई थी नाइट सफारी

4 मार्च 2021 को वन मंत्री विजय शाह ने वन विहार में नाइट सफारी का शुभारंभ किया था। हालांकि, शुरुआती कुछ दिन तक नाइट सफारी को टूरिस्ट नहीं मिले थे, लेकिन बाद में अच्छी संख्या होने लगी थी। इधर, अप्रैल की शुरुआत में ही राजधानी में कोरोना का संक्रमण तेज हो गया और 12 अप्रैल को नाइट कर्फ्यू भी लगा दिया गया था। इसके चलते वन विहार लॉक हो गया था, जो 66 दिन के बाद 17 जून को अनलॉक हुआ था। करीब 38 दिन ही नाइट सफारी हो सकी थी।

बारिश में ट्रैक हो गया था खराब

पार्क अनलॉक होने के बाद वन विहार मैनेजमेंट फिर से नाइट सफारी शुरू करना चाह रहा था, लेकिन बारिश के चलते नाइट सफारी का ट्रैक खराब हो गया था। नाइट सफारी का ट्रैक 13 किमी लंबा है। इसमें से आधा ट्रैक यानी 8 किमी हिस्सा 5 लाख रुपए में ठीक कराया गया था। नवंबर और दिसंबर में ट्रैक सही कर दिया गया और जनवरी में नाइट सफारी शुरू करने का प्लान था।

कान्हा-बांधवगढ़ और पेंच की तर्ज पर हुई थी शुरुआत

कान्हा, बांधवगढ़ और पेंच नेशनल पार्क की तर्ज पर मार्च-20 में वन विहार में भी नाइट सफारी की शुरुआत हुई थी। 13 किमी के ट्रैक पर सैलानियों को 50 मिनट की सैर कराई गई थी। रात में वे वन्यजीवों की चहल-कदमी देख रहे थे।

अभी सफारी शुरू नहीं

कोरोना का संक्रमण बढ़ने के बाद पिछले साल नाइट सफारी बंद कर दी गई थी। बारिश में ट्रैक खराब होने से सफारी शुरू नहीं की गई। वर्तमान में फिर से कोरोना केस बढ़ रहे हैं। इसलिए सफारी शुरू नहीं कर रहे हैं। कोरोना का असर कम होने के बाद ही नाइट सफारी शुरू की जाएगी।

डॉ. एके जैन, डिप्टी डायरेक्टर वन विहार