पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %

अच्छी पहल:150 पोषक पालक और 200 स्वयंसेवी संस्थाएं रखेंगी कुपोषित बच्चों का ख्याल

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नई व्यवस्था... 2 अक्टूबर से शुरू हुई थी योजना। - Money Bhaskar
नई व्यवस्था... 2 अक्टूबर से शुरू हुई थी योजना।

सही पोषण की व्यवस्था नहीं होने से एक बच्ची इतनी कमजोर हो गई थी कि वह अति कुपोषण की श्रेणी में आ गई। इसकी जानकारी एक सामाजिक कार्यकर्ता ओम प्रकाश को लगी तो उसने महिला बाल विकास विभाग की योजना के तहत पोषक पालक बनकर बच्ची को गोद लिया। वे एक साल तक उसके दूध के साथ पोषण आहार का खर्च उठाएंगे। वे अकेले नहीं है। भोपाल जिले में कुपोषित बच्चों का खर्च उठाने के लिए शहर भर से 150 पोषक पालक और 200 स्वयंसेवी संस्था और इंस्टीट्यूट आगे आए हैं।

भोपाल के 80 अति गंभीर और 330 गंभीर कुपोषित बच्चों पर अब व्यक्तिगत रूप से सामाजिक कार्यकर्ता और इंस्टीट्यूट नजर रखेंगे। इसकी वजह महिला एवं बाल विकास विभाग ने इन बच्चों को अटल पोषक पालक बनाकर उन्हें जिम्मेदारी दी है। यदि कोई सामाजिक कार्यकर्ता किसी कुपोषित बच्चे काे गोद लेना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 75661-02211 पर संपर्क कर सकते हैं।

इस तरह रखेंगे नजर

जिला कार्यक्रम अधिकारी योगेंद्र यादव ने बताया कि कि भोपाल के बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने सीईओ जिला पंचायत और ट्राइनरी हेल्थ प्राइवेट लिमि. (क्योरलिंक) द्वारा इसकी मॉनीटरिंग की जा रही है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता इनका डाटा एकत्रित करेंगी। इसमें गंभीर, अति गंभीर कुपोषित बच्चों को जानकारी जैसे ही फीड होगी। वैसे ही जानकारी डॉक्टर के पास ऑनलाइन रिसीव होगी। डॉक्टर के द्वारा मरीज की स्थिति के अनुसार कलर कोडिंग कर एप में परामर्श के लिए दर्ज किया जाएगा। उसके बाद उनकी काउंसलिंग की जाएगी।

खबरें और भी हैं...