पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57684.791.09 %
  • NIFTY17166.91.08 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47590-0.92 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61821-0.24 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • 10 Cases Came In Ten Days; Task Force Was Formed At The Beginning Of Monsoon, Still Could Not Take Precaution, Now Fogging Is Happening

गुना में 14 वर्षीय नाबालिग निकला डेंगू पॉजिटिव:दस दिन में 10 केस आये सामने; मानसून की शुरुआत में ही बन गयी थी टास्क फोर्स, फिर भी नहीं बरत पाए एहतियात, अब हो रही फॉगिंग

गुना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घरों में लार्वा की जांच करते विभाग के कर्मचारी। - Money Bhaskar
घरों में लार्वा की जांच करते विभाग के कर्मचारी।

गुना। शहर में तेजी से डेंगू का खतरा बढ़ रहा है। सोमवार को गुना में डेंगू के 4 मरीज मिले हैं। बीजी रोड, पवन कालोनी, देवपुर गांव और एक मरीज गणेष कालोनी अशोकनगर नगर का मिला है। गुना में 10 दिन में 10 मरीज सामने आए हैं। उधर, मरीज मिलने के बाद मलेरिया विभाग ने रसीद कालोनी में जाकर डेंगू पाॅजिटिव घर का जायजा लिया तो उसके घर में रखे कूलर और गमले में डेंगू के मच्छर का लार्वा मिला।

उल्लेखनीय है कि मलेरिया विभाग की द्वारा सोमवार को डेंगू पॉजिटिव के घर पर ही कूलर और एक गमले में काफी मात्रा में लारवा पाया गया। उसे नष्ट किया गया रसीद कालोनी के आसपास क्षेत्रों में पहुंचकर डोर टू डोर लारवा एवं फीवर सर्वे कर मच्छरों से होने वाली बीमारी जैसे डेंगू मलेरिया चिकनगुनिया का जन.जागरूकता और मच्छरों से बचाव के लिए पंपलेट प्रदाय किए गए। प्रचार के दौरान टीम से पूछा गया कि मच्छर तो सब जगह पाएं जाते जैसे हमारे घर के बाहर पानी भरा हुआ हैं, पर घरों के अंदर मच्छरों को क्यों ढूंढ रहे हो टीम ने समझाया गया कि बीमारी फैलाने वाले मच्छर तीन प्रकार के होते हैं।

पांव तक ही काटते हैं डेंगू के मच्छर

मलेरिया विभाग के अनुसार, घरों के साफ पानी में पनपते हैं और जमीन में रहते हैं। ऐसे मच्छर पांव तक ही काटते हैं। दूसरी तरह के मच्छर मिट्टी के बर्तनों की जगह प्लास्टिक और रबड़ के सामान में प्रजनन करते हैं। तीसरे प्रकार के मच्छर ठंडे वातावरण में जैसे एसी कूलर में पनपते हैं इन ही मच्छरों से बीमारी फैलती है और कोई मच्छर बीमारी नहीं फैलाते बल्कि सिर्फ काटते हैं। इस दौरान 94 घरों का सर्वे किया, जहां 17 घरों में लार्वा मिला। यहां सर्वे के दौरान कमरों की संख्या 205 और पात्रों की संख्या 115 है। तीन लोग बुखार से पीड़ित मिले, जिनकी रक्त पट्टी बनवाई गई।

सोमवार को 14 की जांच 4 पाॅजिटिव मिले

उधर, जिला अस्पताल में सोमवार को 14 लोगों की जांच की गई, इसमें 4 मरीज पाॅजिटिव मिले। इनमें एक मरीज अशोकनगर का फिर से मिला है। इसी के साथ गुना में बीजी रोड, पवन कालोनी, देवपुर गांव, रसीद कालोनी, कर्नलगंज और बूढ़ेबालाजी क्षेत्र में पाॅजिटिव मरीज मिल चुके हैं। डा. पीएन धाकड़ ने कहा कि डेंगू के मरीज मिल रहे हैं। उनसे बचाव के लिए जरूरी हैं कि पूरी बांहों के कपड़े पहनें। मच्छरदानी का उपयोग करें। सात दिन में पानी का बदलें।

खबरें और भी हैं...