पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बदलाव:प्रतिभा पर्व परीक्षा , उत्तरपुस्तिका बच्चों के घर भेजेंगे, एक महीने में स्कूल में होंगी जमा

अशोकनगर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूल परिसर में बैठे शिक्षक सहित अन्य ग्रामीण  । - Money Bhaskar
स्कूल परिसर में बैठे शिक्षक सहित अन्य ग्रामीण ।
  • 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ शुरू होने वाले कार्यक्रम बदले

कक्षा पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों की प्रतिभा पर्व परीक्षा अब स्कूल से नहीं, घर से होगी। परीक्षा में होने वाले प्रोजेक्ट कार्य व आंसरशीट की प्रति शिक्षक विद्यार्थियों को घर देकर आएंगे। जिन्हें विद्यार्थी भरकर एक महीने में स्कूल में जमा कराएंगे। इसके बाद शिक्षक आंसरशीट व प्रोजेक्ट कार्य का मूल्यांकन कर एक महीने में परीक्षाफल तैयार करेंगे। जिले में स्थित सरकारी प्रावि-मावि में पहली से आठवीं तक 88 हजार 778 विद्यार्थी दर्ज है। जिनके प्रतिभा पर्व परीक्षा कार्यक्रम को कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते राज्य शिक्षा केंद्र ने बदलाव किया है।

पूर्व में राज्य शिक्षा केंद्र ने 24 दिसंबर को परीक्षा का जो टाइम टेबल जारी किया था उसमें तीसरी से पांचवीं व छठी से आठवीं तक दो चरणों में 50% बच्चों के साथ अल्टरनेट डे में परीक्षा कराने का कार्यक्रम था। लेकिन प्रदेश में कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ने के कारण राज्य शिक्षा केंद्र ने नया कार्यक्रम घोषित कर दिया। जिला शिक्षा केंद्र के अनुसार तय कार्यक्रम के अनुसार ही मूल्यांकन परीक्षा बच्चों को दिलवाना होगा।

9वीं-12वीं की ऑनलाइन पढ़ाई व ऑफ लाइन परीक्षा होगी : प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ाई ऑनलाइन और अभियान के माध्यम से कराई जाएगी। कक्षा 9वीं 12 वीं तक की कक्षाओं के विद्यार्थियों की प्री बोर्ड परीक्षा टेक होम होगी। विद्यार्थी विद्यालयों में प्रश्न पत्र एवं उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त करेंगे और निर्धारित समय सीमा में विद्यालयों में उत्तर पुस्तिकाएं जमा करेंगे। सभी शैक्षणिक गैर शैक्षणिक स्टाफ विद्यालयों में प्रत्येक कार्य दिवस में नियम उपस्थित रहेंगे।

ऐसा रहेगा प्रतिभा पर्व परीक्षा का कार्यक्रम : शिक्षक घर देंगे वर्कशीट नए कार्यक्रम के तहत वर्कशीट व प्रोजेक्ट बुकलेट बच्चों के घर संबंधित स्कूल के शिक्षक देने जाएंगे। इसके बाद 15 जनवरी से 5 फरवरी तक बच्चों द्वारा बुकलेट को पूर्ण करना, 6 से 15 फरवरी तक पूर्ण वर्कशीट व प्रोजेक्ट को बच्चों से जमा कराना, 16 से 25 फरवरी तक पूर्ण वर्कशीट व प्रोजेक्ट बुकलेट्स का मूल्यांकन, 25 फरवरी से 10 मार्च तक शैक्षिक मूल्यांकन प्रपत्र भरना व डाटा एंट्री करना। सोमवार से बच्चों को घर पर काफी दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...