पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX58592.360.17 %
  • NIFTY17406.950.06 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46149-0.06 %
  • SILVER(MCX 1 KG)59920-1.88 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • The Movement Of Gohad And Lahar From Mau Town Stalled, 5 Feet Of Water Came On The Sliding Bridge Of Jhilmil And Barwa Rivers, More Than 40 Villages Lost Contact

भिंड में दो नदियों के पुल पर आया पानी:मौ कस्बा से गोहद और लहार का आवागमन ठप, झिलमिल और बरवा नदी के रपटा पुल पर 5 फीट आया पानी, 40 से अधिक गांव का संपर्क टूटा

भिंड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
झिलमिल नदी के रपटा पुल पर आया पानी। निकलते हुए लोग। - Money Bhaskar
झिलमिल नदी के रपटा पुल पर आया पानी। निकलते हुए लोग।

भिंड जिले का मौ कस्बा का संपर्क जिला मुख्यालय से टूट गया। तेज बारिश की वजह से बरवा नदी और झिलमिल नदी के रपटा पुल पर पांच-पांच फीट पानी आ गया। अब मौ के लोगों को लहार और गोहद जाना का रास्ता कट गया है।

जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर मौ कस्बा दो ओर से चौमासी नदियों से घिरा हुआ है। लहार की ओर जाने पर रूपावई गांव के पास बरवा नदी और मौ कस्बे के डाक बंगला के नजदीक झिलमिल नदी के रपटा पुल पर पानी आ गया। यह पानी रात से बढ़ने लगा। शुक्रवार की सुबह से तेज बहाव रहा। इन दोनों पुलों पर पांच-पांच फीट पानी चल रहा है। दोनों रपटा पुल पर पानी आने की वजह से मौ कस्बा दो ओर से घिर गया है। अब मौ कस्बे के लोगों को बेहट होते हुए ग्वालियर का रास्ता रह गया है। वहीं भिंड जिले के लहार, गोहद, मेंहगांव और भिंड का संपर्क टूट गया है। बारिश के कारण दो नदियों में पानी बढ़ जाने से चालीस से अधिक गांव का संपर्क टूट गया है। जोकि प्रशासनिक व्यवस्था से मौ कस्बे पर निर्भर हैं।

बसों का परिवहन रहा बंद

  • लहार, दबोह, सेंवढ़ा से ग्वालियर जाने वालों के लिए रास्ता पूरी तरह से बंद हो गया। क्यों कि इस ओर से आने वाली बसों और अन्य वााहनों को बरवा नदी के रपटा पुल पर से निकलना होगा। यह नदी पर पानी आने से बस सेवा ठप हो गई। वहीं, कुछ बसें अमायन के रास्ते होकर मेंहगांव पहुंची जहां से वे ग्वालियर जा सकी।

पुलों का अधूरा निर्माण

  • इन दोनों रपटा पुल पर पानी हर साल बारिश के सीजन में आजाता है। इसे देखते हुए एमपीआरडीसी द्वारा पिछले तीन साल से दोनों नदियों पर नए पुल निर्माण का काम कराया जा रहा है। इन दाेनों नदियों पर निर्माणाधीन पुलों का 50 फीसदी भी काम पूरा नहीं हो सका है।

दोनों पुलों पर पानी आने से संपर्क कट गया

बारिश की वजह लहार की ओर से आने वाले बरवा नदी और मौ से ग्वालियर की ओर जाने वाले झिलमिल नदी के रपटा पुल पर पानी आ गया। इस वजह से कई गांव जोकि मौ कस्बे की प्रशासनिक व अन्य व्यवस्थाओं पर निर्भर थे उनसे संपर्क टूट गया है। पानी तेजी से कम हो रहा है। उम्मीद है कि 24 घंटे में पुन: परिवहन सेवा शुरू हो जाएगी

महेंद्र गुप्ता, तहसीलदार, मौ, जिला भिंड।

बरवा नदी के रपटा पुल पर आए पानी में निकलते हुए लोग।
बरवा नदी के रपटा पुल पर आए पानी में निकलते हुए लोग।