पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

व्यवसायिक शिक्षकों का आदोलन:सात माह से नहीं मिला वेतन, अब तो परिवार का भरण-पोषण करना भी हो रहा मुश्किल

भिंड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
व्यवसायिक शिक्षक डीईओ आॅफिस के बाहर मांग पत्र देने के लिए खड़े। - Money Bhaskar
व्यवसायिक शिक्षक डीईओ आॅफिस के बाहर मांग पत्र देने के लिए खड़े।

मध्य प्रदेश के अन्य जिलों के साथ अब भिंड जिले में भी व्यावसायिक शिक्षकों (आउटसोर्स कर्मचारी) ने वेतन नहीं तो काम नहीं आंदोलन शुरू कर दिया गया है। शिक्षकों को पिछले सात माह से वेतन का भुगतान नहीं हुआ है। जिसके चलते वे आक्रोशित हैं। गुरुवार को जिले के व्यावसायिक शिक्षकों ने व्यावसायिक प्रशिक्षक संघ के बैनर तले डीईओ ऑफिस पहुंचकर अपनी मांगों के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी हर भवन सिंह तोमर के नाम डीपीसी सत्यभान सिंह को मांग पत्र सौंपा। इस दौरान शिक्षकों ने जमकर नारेबाजी की।

डीईओ ऑफिस के बाहर व्यावसायिक शिक्षिका रेखा शिवहरे ने कहा कि वेतन नहीं मिलने से प्रदेशभर में 2550 व्यावसायिक शिक्षक वेतन की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। वहीं वेतन नहीं मिलने से अब जिले के शिक्षक भी मैदान में उतर आए हैं। जिले के व्यावसायिक शिक्षकों को पिछले सात माह से वेतन नहीं मिला है। ऐसी स्थिति में परिवार का भरण-पोषण करना भी हम शिक्षकों के लिए मुश्किल हो गया है। इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है। हम लोगों के पास पैसा नहीं होने से नाते-रिश्तेदारों के यहां शादियों में नहीं पहुंच पा रहे हैं।

नियमित शिक्षकों को मिल रहा है वेतन
शिक्षक भूपेंद्र सिंह कुशवाह बताते हैं कि हम लोग लगातार वेतन के भुगतान की मांग विभागीय अधिकारियों से करते आ रहे हैं। लेकिन हर बार अगले महीने भुगतान कराने का आश्वासन अधिकारियों के द्वारा दे दिया जाता है। वेतन का भुगतान न होने के पीछे विभागीय अधिकारी तकनीकी परेशानी होना बता रहे हैं, जबकि विभाग में जो शिक्षक नियमित हैं। उनको हर महीने वेतन का भुगतान हो रहा है। उनके लिए तकनीकी परेशानी क्यों खड़ी नहीं होती है। अब तो हमारे पास स्कूल आने जाने के लिए भी पैसा नहीं बचा है।

राशन और दूध वालों ने भी उधार देने से मना कर दिया है। अब तो जिले के सभी व्यवसायिक शिक्षक आंदोलन के चलते अनिश्चितकालीन हड़ताल चले गए हैं। वहीं जब तक मांगे पूरी नहीं होती तब तक हड़ताल पर बैठे रहेंगे। इस मौके पर िवक्रम सिंह, निर्मला शर्मा, मधुराज आदि मौजूद रहे।

अब तो हमें भगवान पर भरोसा
13 सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 21 दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चल रहे लैब टेक्नीशियन, लैब असिस्टेंट, लैब अटेंडेंट गुरुवार को भिंड ऋषि मंदिर पहुंचे। वहां पर उन्होंने भिंड ऋषि की प्रतिमा पर अपना 13 सूत्रीय मांग पत्र चढ़ाया। इस दौरान समस्त मेडिकल लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन मप्र के जिलाध्यक्ष महेश बौहरे ने कहा कि हम लोगों को अब प्रदेश सरकार पर भरोसा नहीं रहा है कि वह हमारी मांगों को पूरा करेगी। जिसके चलते अब हम लोग भगवान की शरण में चले गए हैं। हड़ताल पर बैठे सभी कर्मचारी किसी दिन मां संतोषी माता, किसी दिन हनुमान, किसी दिन शंकर मंदिर पहुंच रहे हैं, आज हम लोग भिंड ऋषि की शरण में आए हैं। भिंड ऋषि से हम लोगों ने जल्द मांगे पूरी होने की प्रार्थना की है। इस मौके पर रमाकांत शर्मा, संजय मिश्रा, साधना शर्मा, ललित, जयदीप, गौरव यादव, करण सिंह, विनोद राजोरिया, वर्षा, करण भूरिया, संजू गर्ग, शैलेंद्र वर्मा, वीरेंद्र गुर्जर, मनोज जैन, रंजना सोलंकी आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...