पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX57107.15-2.87 %
  • NIFTY17026.45-2.91 %
  • GOLD(MCX 10 GM)481531.33 %
  • SILVER(MCX 1 KG)633740.45 %
  • Business News
  • Local
  • Mp
  • Bhind
  • Brought A Girl From Sagar And Got Married To A Young Man From Bhind, Grabbed 3 Lakh Cash And Jewellery, The Bride Ran Away, The Police Filed An FIR

शादी के बदले मिला धोखा:सागर से लड़की लाकर भिंड के युवक से कराई शादी, 3 लाख नकदी और जेवर हड़पे; दूल्हन भागी, 4 पर FIR

भिंड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शादी के दौरान वरमाला का फोटो।

भिंड जिले में शादी कराकर ठगी करने का मामला सामने आया है। गांव के युवक की उम्र 29 साल हो गई थी। परिवार वाले शादी नहीं होने से परेशान थे। इस बीच एक दंपती ने शादी कराने का ऑफर दिया। महिला ने कहा कि उसकी बहन की बेटी है, लेकिन वह गरीब है। शादी के खर्च के लिए तीन लाख रुपए दे दो। बाद में सागर से एक युवती को ले आए शादी करा दी। तीन महीने बाद युवती को जेवर के साथ भगा दिया। पुलिस ने दंपती, उसके बेटे और दुल्हन पर केस दर्ज कर लिया है।

मामला जिले के मेहगांव के गिजौर्रा गांव का है। ललोई गांव निवासी शिव कुमार (29) के परिवार वालों से उमा देवी और उसकी पति अरविंद तिवारी ने संपर्क किया। दोनों ने शिवकुमार के बुजुर्ग पिता से कहा कि तुम्हारे बड़े बेटे ने संन्यास ले लिया है। दूसरे बेटे की शादी नहीं हो रही है। इसकी शादी अपनी बहन की लड़की से करा दूंगी। इस पर पिता तैयार हो गया। उमा और अरविंद ने कहा कि लड़की के मां अकेली है। उसके पास पैसा नहीं है। शादी का खर्च समेत पैसा तीन लाख नकद देना होगा। इस पर लड़का पक्ष तैयार हो गया। इसके बाद दोनों ने सागर की रहने वाली मालती से दोनों मिले और बोले कि तुम्हारी बेटी की शादी अच्छे घर में करा दुंगा, वो जीवन भर राज करेगी। इस पर मालती तैयार हो गई। मालती की बेटी पूनम को वो दोनों अपने साथ गिजौर्रा लाए।

शादी के दौरान मांग भराई की रस्म पूरी करते हुए।
शादी के दौरान मांग भराई की रस्म पूरी करते हुए।

फर्जी आधार कार्ड तैयार कराया

इसके बाद दोनों ने भिंड में पूनम का फर्जी आधार कार्ड तैयार कराया। उमा ने पूनम को अपनी बहन की बेटी बताया। पूनम को कई दिनों तक भिंड में उमा के पास रहने पर उसकी मां मालती आई। वह पूनम को अपने साथ लेने की बात करने लगी। तभी उमा ने लिलौर के शिवकुमार के साथ शादी कराने की बात कही। इस पर पूनम की मां ने लड़के की उम्र ज्यादा होने की बात कही। उमा ने कहा कि लड़की को यहीं रहने दो। मैं दूसरे लड़के से शादी करवा दूंगी।

इधर, शिवकुमार उर्फ अंगद के परिवार वालों ने शादी का दबाव बनाया। इस पर शादी के लिए शुभ मुहूर्त निकाला गया और 4 अप्रैल को शादी तय की गई। पूनम और शिवकुमार की उमा ने स्वयं अपने घर गिजौर्रा से शादी कराई। इसमें रिश्तेदार भी बुलाए गए। वरमाला, सात फेरे आदि की रस्में पूरी की गईं। इसके बाद 3 महीने तक पूनम अपने पति के साथ रही। उमा व उसके पति ने पूनम को दो से तीन बार अपने घर बुलाया।

पूनम की मां दिल्ली में भर्ती है उसे खर्च दे दीजिए
उमा ने एक दिन पूनम की मां बीमार होने की बात कहते हुए शिवकुमार से पांच हजार रुपए मांगे औप कहा कि वो दिल्ली देखने जा रही है। इस पर शिवकुमार ने साथ जाने के लिए कहा तो बोली मैं अभी साथ में नहीं ले जा रही, तुम एक दो दिन बाद देख आना। पांच हजार रुपए लेकर पूनम को उमा ने अपनी बहन (जोकि भिंड में गौरी सरोवर के पास रहती है) घर भेज दिया। यहां से पूनम बस में बैठकर भाग निकली। वो सीधे अपने घर सागर पहुंच गई।

शादी के बाद जन्मदिन मनाते हुए।
शादी के बाद जन्मदिन मनाते हुए।

शादी के बाद 3 जून को मनाया जन्मदिन
शादी के बाद उमा ने पूनम का जन्म दिन होने की बात कही। इस पर शिवकुमार ने पूनम का जन्मदिन उमा के घर गिजौर्रा में मनाया। जन्म दिन के कुछ दिन बाद पूनम ससुराल से उमा के घर पहुंची। यहां से उसने भागने का प्रयास किया। उमा और उसका पति ग्वालियर से पकड़कर लाए थे। पूनम अपनी ससुराल चली गई। तीन जुलाई को दूसरी बार वह छह तोला सोना लेकर वापस उमा के घर आ गई। यहां से वह सागर भाग गई। शिवकुमार ने पुलिस में शिकायत की। जांच के बाद पुलिस ने रविवार को इस मामले में एफआईआर दर्ज की।

खबरें और भी हैं...