पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

दोषी को 20 साल की सजा:​​​​​​​बालाघाट जिले में नाबालिग से ज्यादती के आरोप में सुनाई सजा और लगाया जुर्माना

बालाघाट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बालाघाट जिले के वारासिवनी में नाबालिग से ज्यादती के आरोपी को वारासिवनी की विद्वान अदालत ने दोषी पाते हुए 20 साल की सजा से दंडित किया है। विद्वान न्यायाधीश शिवलाल केवट की अदालत ने आरोपी डोंगरिया कायदी गांव निवासी प्रेम (21) पिता अभिमन्यु सिंगाड़े को अलग-अलग धाराओं में दोषी पाते हुए 20-20 साल की सजा और 2-2 हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया है।

जानकारी के अनुसार पुलिस थाना वारासिवनी अंतर्गत डोंगरिया कायदी गांव में आरोपी ने करीब साढ़े पांच साल की बालिका को चाय पीने के बहाने घर में बुलाकर छत पर ले जाकर ज्यादती की थी। घटना 5 फरवरी 2019 की शाम लगभग 5 बजे की थी।

बालिका के पिता ने इस घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना वारासिवनी में की थी। पुलिस ने मुलाहिला कर आरोपी को गिरफ्तार किया गया और चार्जशीट न्यायालय में पेश की गई थी। विचारण के दौरान पॉक्सों एक्ट न्यायालय के विद्वान न्यायाधीश शिवलाल केवट द्वारा आरोपी प्रेम को दोषी पाते हुए भादवि की धारा 376 (क)(ख) में 20 साल और 2 हजार रुपए तथा पॉक्सो एक्ट की धारा 5(ड)ए 6 के तहत 20 साल व 2 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया है।

खबरें और भी हैं...