पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंत्री की अधिकारियों को दो टूक:कहा- अस्पतालों का करते रहें निरीक्षण, स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर नहीं मिलनी चाहिए शिकायत

बालाघाटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आयुष राज्यमंत्री रामकिशोर कावरे ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रदेश के सभी जिलों के आयुष अधिकारियों की अहम बैठक ली। बैठक में आयुष विभाग ने संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की समीक्षा की।

आयुष मंत्री ने अधिकारियों को दो टूक कहा कि वे अपने-अपने जिले के आयुर्वेद, होम्योपैथ और यूनानी अस्पतालों का सतत निरीक्षण करें। ये भी सुनिश्चित करें कि वहां डॉक्टर और स्टाफ की सेवाओं का लाभ जनता को मिल रहा है या नहीं। कहीं से भी ये शिकायत नहीं मिला चाहिए कि आयुष के अस्पताल में डॉक्टर उपलब्ध नहीं हैं या उनकी सेवाएं नहीं मिल रही हैं। कलेक्ट्रेट, बालाघाट के एनआईसी कक्ष में हुई इस बैठक में जिला आयुष अधिकारी डॉ. शिवराम साकेत भी शामिल हुए।

आयुष को लोकप्रिय बनाने काम करें

आयुष मंत्री श्री कावरे ने बैठक में सभी जिलों के आयुष अधिकारियों से कहा कि वे आयुष विभाग की योजनाओं का प्रभावी क्रियान्वयन करें और जन-जन में आयुष को लोकप्रिय बनाने के लिए काम करें। प्रदेश में अब तक जिन 362 स्थानों पर वेलनेस सेंटर खोले गए हैं, उनका संचालन अच्छे से हो, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि आयुष विभाग द्वारा प्रदेशभर में 400 वेलनेस सेंटर और बनाए जाने की योजना है। आयुष ग्राम योजना में चयनित ग्राम के प्रत्येक घर का सर्वे किया जाए। आमजन को अपने घर पर ही हर्बल गार्डन तैयार करने के लिए प्रोत्साहित करें।

खबरें और भी हैं...