पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

सड़क हादसे में वनरक्षक की मौत, पत्नी-बेटा घायल:​​​​​​​जॉइनिंग लेने बाइक से पत्नी और बेटे के साथ लांजी आ रहा था वनरक्षक

बालाघाट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में बैठे घायल। - Money Bhaskar
अस्पताल में बैठे घायल।

बालाघाट में बाघ की गणना समाप्त कर अपनी नई पदस्थापना लेने लांजी आ रहे वनरक्षक की देर शाम सड़क हादसे में मौत हो गई। वनरक्षक अपनी पत्नी तथा एक बेटे के साथ लांजी आ रहा था और हाल ही में उसने अपना सामान लांजी स्थानांतरण होने के बाद शिफ्ट किया था, लेकिन ज्वाॅइनिंग लेने के पहले ही सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई।

इस घटना में वनरक्षक की पत्नी और एक बेटे को चोट आई है, जिनका उपचार सिविल अस्पताल लांजी में किया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, वनरक्षक उमाशंकर पिता दिगंबर गुजरकर (45), पत्नी विमला और बेटे चैतन्य के साथ दो पहिया वाहन से अपने गृह ग्राम चिखला से लांजी की ओर आ रहा था।

बताया गया कि भानेगांव के पास ग्राम टेडवा में सामने से आ रहे दोपहिया वाहन चालक द्वारा उमाशंकर के वाहन को टक्कर मार दी।

बड़े बेटे को बस से आने को कहा

मृतक के बड़े बेटे मयूर ने बताया कि जॉइनिंग लेने के लिए पूरा परिवार लांजी आ रहा था। बाइक में जगह नहीं होने के कारण मुझे लांजी आने के लिए बस में बैठा दिया गया और मम्मी-पापा व भाई बाइक से लांजी आ रहे थे, लेकिन ये हादसा हो गया। खबर मिलते ही लांजी वन परिक्षेत्र के अधिकारी व कर्मचारीगण सिविल अस्पताल परिसर में मौजूद रहे।

इलाज के दौरान तोड़ा दम

हादसे के बाद लांजी की तरफ आ रही एंबुलेंस की मदद से जख्मी वनरक्षक अन्य दोनों घायलों को सिविल अस्पताल, लांजी लाया गया, जहां उपचार के दौरान वनरक्षक उमाशंकर ने दम तोड़ दिया। मामले की जानकारी लगते ही वनरक्षक के पिता एवं अन्य परिजन सिविल अस्पताल लांजी पहुंचे। शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के हवाले कर दिया गया।