पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59015.89-0.21 %
  • NIFTY17585.15-0.25 %
  • GOLD(MCX 10 GM)46178-0.54 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61067-1.56 %

महाराष्ट्र में बाढ़ की त्रासदी:सतारा में पीड़ितों को मरहम लगाने पहुंचे पूर्व CM फडणवीस ने जमीन पर बैठकर खाया खाना, कहा-हर संभव मदद करूंगा

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सतारा के पाटन तालुका के अंबेघर और मोरगिरी गांव के पीड़ितों के लिए एक सरकारी स्कूल में सेल्टर होम बनाया गया था। पूर्व CM इसी सेल्टर होम में पहुंचे थे। - Money Bhaskar
सतारा के पाटन तालुका के अंबेघर और मोरगिरी गांव के पीड़ितों के लिए एक सरकारी स्कूल में सेल्टर होम बनाया गया था। पूर्व CM इसी सेल्टर होम में पहुंचे थे।

नेता विपक्षी देवेंद्र फडणवीस और भाजपा नेता प्रवीण दारेकर बुधवार से महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा कर रहे हैं। इसी कड़ी में दोनों नेता पश्चिमी महाराष्ट्र के सतारा के पाटन तालुका के अंबेघर और मोरगिरी गांव में पहुंचे थे। अंबेघर और मोरगिरी में 23 जुलाई को भूस्खलन से 15 लोगों की मौत हो गई थी।

इन गांवों के नागरिकों के लिए एक सरकारी स्कूल में शेल्टर होम तैयार किया गया है। पूर्व CM फडणवीस, मोरगिरी गांव के स्कूल में पीड़ितों से मिले और उन्हें हर संभव मदद का वादा किया। यहां पीड़ितों से मुलाकात के दौरान दोपहर हो चुकी थी और इस बीच उनके लिए खाना आ गया। इसके बाद फडणवीस ने भी उनके साथ बैठकर खाना खाने की इच्छा जताई।

फडणवीस ने पीड़ितों को हर संभव मदद का वादा किया है।
फडणवीस ने पीड़ितों को हर संभव मदद का वादा किया है।

जिसपर खुशी जताते हुए ग्रामीणों ने उनके लिए अलग से बैठे का इंतजाम किया, लेकिन पूर्व CM कुर्सी टेबल पर बैठने की जगह ग्रामीणों के साथ जमीन पर बैठकर खाना खाने लगे। उनके साथ प्रवीण दारेकर ने भी पीड़ितों के साथ बैठ खाना खाया।

पूर्व CM यहां तकरीबन एक घंटा रुके और उन्होंने ग्रामीणों का हाल जाना।
पूर्व CM यहां तकरीबन एक घंटा रुके और उन्होंने ग्रामीणों का हाल जाना।

क्षति बहुत बड़ी है, सभी को पुनर्वास की जरूरत है
खाना खाने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ''यह नुकसान बहुत बड़ा है। सभी को पुनर्वास की जरूरत है। कृषि और आवास को भारी नुकसान पहुंचा है। इन्हें इनकी पसंद के हिसाब से नया घर दिया जाना चाहिए। इन सभी लोगों को अतिरिक्त मदद मिलनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...