पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तीन कांग्रेसी विधायकों के यहां बंगाल सीआईडी का छापा:30 जुलाई को 49 लाख कैश के साथ हावड़ा में पकड़े गए थे 3 कांग्रेसी विधायक, अहम दस्तावेज जब्त

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जामताड़ा में विधायक इरफान अंसारी के घर पर छापेमारी के दौरान तैनात पुलिसकर्मी। - Money Bhaskar
जामताड़ा में विधायक इरफान अंसारी के घर पर छापेमारी के दौरान तैनात पुलिसकर्मी।

कैश कांड में पकड़े गए बंगाल सीआईडी ने सोमवार को कांग्रेस के तीनों विधायकों के घर पर छापेमारी की। सीआईडी ने विधायक इरफान अंसारी के जामताड़ा स्थित पैतृक आवास के साथ ही रांची के धुर्वा सेक्टर-टू स्थित सरकारी आवास और खिजरी विधायक राजेश कच्छप के नामकुम के राजा उलातू स्थित पैतृक आवास व धुर्वा के सेक्टर-टू स्थित आवास पर छापे मारी। सीआईडी ने कोलेबिरा विधायक नमन विक्सल काेंगाड़ी के रांची में पुराना विधानसभा परिसर स्थित सरकारी आवास की तलाशी ली, हालांकि उनके सिमडेगा के खूंटी टोला आवास पर नहीं गई।

छापेमारी के दौरान सीआईडी को कई अहम दस्तावेज और कुछ गहने व नकदी मिले हैं। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। वहीं राजेश कच्छप के नामकुम स्थित आवास से एक हथियार मिलने की भी सूचना है, जिस उनके परिजनों ने लाइसेंसी बताया है। अब सीआईडी जब्त दस्तावेजों का सत्यापन कर रही है। छापेमारी में बंगाल सीआईडी के साथ झारखंड पुलिस के जवान भी शामिल थे।

इरफान के जामताड़ा आवास में था एक कर्मचारी

सीआईडी की चार सदस्यीय टीम दोपहर करीब 12:30 बजे जामताड़ा में इरफान अंसारी के घर पर पहुंचे। उनके साथ झारखंड पुलिस भी थी। जिस समय पुलिस ने जामताड़ा कोर्ट रोड स्थित इरफान अंसारी के घर पर छापेमारी की, उस समय वहां सिर्फ एक कर्मचारी और कंस्ट्रक्शन का काम कर रहे कुछ मजदूर थे। इस घर में वे कभी-कभार ही आते हैं। उनका पूरा परिवार देवघर के मधुपुर में रहता है।

बंगाल सीआईडी की हिरासत में हैं तीनों विधायक

तीनों कांग्रेसी विधायकों को 30 जुलाई को हावड़ा के पांचला थाना क्षेत्र के रानीहाट मोड़ के पास बंगाल पुलिस ने पकड़ा था। उनकी काले रंग की एसयूवी से 49 लाख रुपए बरामद हुए थे। इसके बाद तीनों विधायकों को हिरासत में ले लिया गया था। बाद में सभी को गिरफ्तार कर लिया गया।

  • एडवोकेट राजीव कुमार मामला

ईडी के डिप्टी डायरेक्टर काे बंगाल पुलिस ने बुलाया

एडवाेकेट राजीव कुमार की गिरफ्तारी से जुड़े मामले में बंगाल पुलिस ने ईडी के रांची जोन के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार को पूछताछ के लिए बुलाया है। उन्हें 160 सीआरपीसी के तहत नोटिस भेजा गया है। सुबोध कुमार अभी ओडिशा में पदस्थापित हैं। राजीव कुमार को कोलकाता पुलिस ने 31 जुलाई को कोलकाता के एक कारोबारी को कथित तौर पर ब्लैकमेल कर उससे 50 लाख रुपए वसूली के आरोप में गिरफ्तार किया था। इस मामले की जांच के दौरान बंगाल पुलिस को राजीव कुमार और ईडी के डिप्टी डायरेक्टर सुबोध कुमार के सोशल मीडिया पर एक चैट मिले हैं। सूत्रों के मुताबिक मंगलवार को बंगाल पुलिस ओडिशा में उनसे पूछताछ करेगी।

खबरें और भी हैं...