पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शांति समिति की बैठक:पूजा पंडालों में फोर्स मौजूद रहेगी, प्रतिमा के विसर्जन के दौरान भी जवान होंगे साथ

लोहरदगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शांति समिति की बैठक - Money Bhaskar
शांति समिति की बैठक

सदर थाना परिसर स्थित पुलिस भवन में आगामी दुर्गा पूजा को लेकर मंगलवार को शांति समिति की बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता करते हुए अनुमंडल पदाधिकारी अरविंद कुमार लाल ने सभी से सौहार्दपूर्ण वातावरण में आगामी त्यौहार मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि त्यौहार के दौरान पूजा समिति के लोग मधुर ध्वनि में भक्ति गीत बजाएं। जिससे आसपास के बुजुर्गों, मरीजों को परेशानी ना हो। वहीं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बीएन सिंह ने कहा कि पूजा के दौरान प्रत्येक पूजा पंडाल में स्टैटिक फोर्स रहेगी। जो प्रतिमा विसर्जन के दौरान भी साथ रहेगी। इसके अलावा सभी पूजा पंडालों में लगने वाले विद्युत लाईटिंग में सुरक्षा का विशेष ध्यान रखने को कहा गया। कहा कि इसकी जांच टीम द्वारा सभी पूजा पंडालों में की जाएगी।

इधर केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष इंद्रजीत लकड़ा ने पूजा के दौरान होने वाले सभी आयोजनों पर विस्तृत जानकारी दी। अष्टमी, नवमी, दशमी में खासकर शहर में भारी वाहन के प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की। वहीं हटिया गार्डन और तिवारी दुरा में विशेष बल की मांग की गई।

प्रशासन की अपील- आपसी सद्भावना के साथ मनाएं पर्व

समिति द्वारा विद्युत व्यवस्था और साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने की मांग की गई। शांति समिति सदस्यों द्वारा नगर में सीसीटीवी को चेक कराने व खराब कैमरे को दुरुस्त कराने की मांग की गई। इस पर एसडीपीओ ने कहा कि खराब कैमरे के स्थान पर चौक चौराहों पर विशेष रूप से सीसी टीवी कैमरा लगाया जाएगा। वहीं रेलवे साइडिंग में 2 अक्टूबर को सप्तमी पर जागरण के आयोजन के दौरान विशेष सुरक्षाबल की मांग की गई। कहा गया पूजा के दौरान परंपरा को कायम रखते हुए सद्भावना बनाए रखने की कोशिश रहेगी।

त्योहार के दौरान खासकर सप्तमी, अष्टमी व नवमी में खुले में मीट व शराब को बंद कराए जाने की मांग रखी गई। मौके पर मुख्य रूप से नप पदाधिकारी देवेंद्र कुमार, सदर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल उरांव, एसआई टीनू साहू, केंद्रीय के महामंत्री मिथुन तमेड़ा, शांति समिति के सदस्यों में राजकिशोर महतो, चंद्रशेखर प्रसाद, मोहन दूबे, परमेश्वर प्रसाद, बलवीर देव, संजय महतो, दीपक सर्राफ, सोमनाथ दत्ता, लाल ओंकार शाहदेव, सफदर आलम आदि थे।

खबरें और भी हैं...