पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश के मौसम में सांपों से बढ़ी परेशानी:जामताड़ा में विषैले सांपों का डेरा, 2 माह में 21 लोग को सांप ने डंस लिया

जामताड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जामताड़ा जिला में सांप बड़ी संख्या में पाए जाते हैं। शहर हो या ग्रामीण क्षेत्र अक्सर लोगों के घरों में आंगन में सांप निकल आता है। जिले में आए दिन सांप के काटने से लोग घायल होते रहते हैं। जामताड़ा का नाम हो और सांपों की चर्चा न हो ऐसा हो नहीं सकता है। जामताड़ा का सांपों से काफी गहरा रिश्ता है। जैसा कि नाम से ही समझा जा सकता है। सिर्फ जून और जुलाई 2 माह में 21 लोगों को सांप ने काटा है। बारिश का मौसम शुरू होते ही जिले में सांपों का प्रकोप बढ़ गया है। अगस्त महीने में ही 5 लोगों को सांप ने काटा।

जंगल पहाड़ नदी से आच्छादित जामताड़ा जिला सांपों के लिए बेहद ही मनपसंद क्षेत्र के रूप में है। यहां के जंगलों में आज भी विषैले सांपों को देखा जा सकता है। जंगलों की कटाई की वजह से अब सांप गांव और शहर में भी पहुंचने लगे हैं। खास कर जुलाई और अगस्त के महीने में सांप मौत बनकर जमीन पर रेंगने लगते हैं। बारिश का मौसम शुरू होते ही जिले में बढ़ जाता है अजगर, कोबरा, करैत, बेंडेड करैत जैसे सांपों का डर। आपको बता दे कि वर्ष 2018 को कुंडहित के मॉडर्न पब्लिक स्कूल में सर्पदंश से दो बच्चों की मौत हो गई थी। प्रत्येक वर्ष जिले में 4-5 लोगों की मौत सांप के काटने से होती है। सांप वर्षा ऋतु में सबसे अधिक दिखाई देते हैं।

सांप काटने पर तुरंत करें ये काम

1. जहां काटा है, उस जगह पर बीटाडीन या फिर स्क्रब सोल्यूशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि अगर ब्लीडिंग हो रही है तो उसे हो जाने दें और बाद में इन चीजों का इस्तेमाल करें। 2. कोशिश करें कि जल्दी-से-जल्दी अस्पताल पहुंचे। 3. अस्पताल में जाने से आपको यह पता चलेगा की घाव कितना गहरा है। साथ ही यह भी पता चल जाएगा की आपको जहर वाले सांप ने काटा है या नहीं।

सांप के काटने पर झाड़ फूंक के चक्कर में न पड़े
"सांप को मारे नहीं अगर सांप से कहीं भी सामना हो जाए तो हलचल न करें, हलचल करने पर सांप घबराकर काटता है, खिड़की पर मौजूद पेड़ की शाखाएं वा डालियों की कटाई करवाएं, रात में घर से निकलते वक्त जूता और टॉर्च का इस्तेमाल करें। ”
-अजिंक्य बनकर देवीदास ,डीएफओ, जामताड़ा

झाड़ फूंक के चक्कर में न पड़े, अस्पताल जाएं
"स्नैक बाइट की दवा पर्याप्त मात्रा में मौजूद थे। किसी को सांप ने काट लिया है तो झाड़-फूंक के चक्कर में ना पड़ तुरंत स्थानीय चिकित्सालय पहुंचे और अपना इलाज करवाएं। विषैले सांप के द्वारा काटे गए मरीज का समय पर इलाज होने से मरीज ठीक हो जाते हैं।”

-डॉ एसके मिश्रा, सिविल सर्जन

खबरें और भी हैं...