पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आपातकाल पर चर्चा:सत्येंद्र ने कहा- आपातकाल लोकतंत्र के लिए कलंक

जामताड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आपातकाल पर चर्चा हेतु भारतीय जनता पार्टी द्वारा संगोष्ठी भाजपा जिलाध्यक्ष सोमनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई। कार्यक्रम में भाजपा वरिष्ठ नेता प्रदेश समिति सदस्य सत्येंद्र सिंह, वरिष्ठ नेता प्रदेश कार्यसमिति सदस्य वीरेंद्र मंडल उपस्थित थे। कार्यक्रम में आपातकाल के विरोध में आंदोलन को स्थानीय स्तर पर नेतृत्व करने वाले तत्कालीन समाजसेवी पशुपतिनाथ देव सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। मौके पर सत्येंद्र सिंह ने कहा आपातकाल भारत के लोकतंत्र के लिए कलंक था, जो तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा देश के लोगों पर थोपी गई थी। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अपने निजी स्वार्थ के पूर्ती के लिए देश में आपातकाल लगाया था।

आपातकाल के कालखंड में देश के जनमानस को जो घाव दिया, जो आज तक नहीं भरा है। भाजपा नेता वीरेंद्र मंडल ने कहा आपातकाल ने नागरिकों का मौलिक अधिकार को छीन लिया था। न्याय व्यवस्था, संसदीय व्यवस्था, पत्रकारिता व्यवस्थापिका सभी पर अंकुश लगा दिया गया। भारतीय जनता पार्टी देश भर में आज के दिन 25 जून 1975 के याद में संगोष्ठी का आयोजन कर काला दिन के रूप में याद करती है। ताकि लोकतंत्र सुरक्षित रहे एवं आने वाले पीढ़ियों को कांग्रेस के कारनामों को याद रखें।

जिलाध्यक्ष सोमनाथ ने कहा देश के लोगों को कांग्रेस के इस करतूत को सदा याद रखना चाहिए। मौके पर प्रभास हेंब्रम, सुकुमार सरखेल, संतन मिश्रा, अशोक चौबे, सतीश सिंह, मोहनलाल बर्मन, हुकू दास, बेबी सरकार, योगेश, मितेश शाह, कुणाल सिंह, रंजीत प्रसाद यादव, अनूप पांडे, पिंटू गुप्ता, रंजीत राणा, कार्तिक भंडारी आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...