पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिउतिया पर्व:भक्ति व आस्था के साथ मनाया गया जिउतिया पर्व, किया पारण

करमाटांड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

क्षेत्र में श्रद्धा और भक्ति के बीच जिउतिया पर्व मनाया गया। माताएं संतान की लंबी आयु की कामना के लिए जीवित्पुत्रिका व्रत किया। महिलाएं सुनीता देवी, अंजली देवी, ममता देवी ने बताया कि व्रत को पूरे विधि-विधान से रखती हैं, उनके बच्चों पर भगवान की विशेष कृपा बरसती है। इस व्रत को रखने से संतान की आयु बढ़ती है और निरोगी और सुखी जीवन जीता है। सनातन परंपरा में हर दिन किसी न किसी देवी-देवता के की पूजा या उपवास से जुड़ा होता है। आस्था से जुड़े आश्विन मास में पितृपक्ष, नवरात्र आदि पर्वों के साथ संतान की लंबी आयु की कामना लिए जीवित्पुत्रिका व्रत रखा जाता है। यह व्रत हर साल आश्विन मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी तिथि को रखा जाता है। संतान के सुख-समृद्धि की कामना के लिए रखा जाने वाला जितिया व्रत काफी कठिन माना जाता है।

खबरें और भी हैं...