पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिला विधिक सेवा प्राधिकार ने की सहायता:7 वर्षों से केंद्रीय कारा दुमका में बंद बंदी को डालसा की पहल पर जमानत

जामताड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लगभग सात वर्षों से दुमका केंद्रीय कारा में सजा काट रहे एक बंदी पतित पावन मुर्मू को जिला विधिक सेवा प्राधिकार की ओर से सहायता उपलब्ध कराने पर तथा उसके परिजनों को सूचित कर उचित बंद्ध पत्र भरवा कर उसे जमानत पर मुक्त करवाया। गौरतलब है कि बिंदापाथर थाना क्षेत्र के हाथधरा निवासी पतित पावन मुर्मू लगभग 7 वर्षों से केंद्रीय कारा दुमका में बंद था। उसे जामताड़ा प्रथम जिला जज के न्यायालय ने सजा दी है। उक्त मामले में बंदी की ओर से जिला विधिक सेवा प्राधिकार को सूचित किया गया। आवेदन में जमानतदार उपलब्ध करा कर मुक्त कराने का आग्रह जिला विधिक सेवा प्राधिकार की ओर से किया गया था।

प्राधिकार के सचिव अभिनव की ओर से इस पर पहल करते हुए पीएलवी को पतित पावन मुर्मू के घर पर भेज कर उसकी मां को सूचित किया गया, तथा रिमांड लॉयर द्वारा बेल बांड भरवा उसे जमानत पर मुक्त कराया गया। प्राधिकार के सचिव अभिनव ने बताया कि गरीब एवं असहाय बंदियों के लिए प्राधिकार सदैव तत्पर है। किसी भी तरह के बंदी के आवेदन प्राप्त होने पर उससे संबंधित आवश्यक कार्रवाई की जाती है। कोई भी बंदी अपने को असहाय ना समझे। प्राधिकार उन्हें हर संभव सहायता करेगा।

खबरें और भी हैं...