पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दहेज उत्पीड़न का मामला:दहेज प्रताड़ना के मामले में पति समेत 4 अन्य आरोपियों को 1 वर्ष का कारावास

जामताड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दहेज उत्पीड़न के एक मामले की अंतिम सुनवाई मंगलवार को एसडीजेएम खुशबू त्यागी के न्यायालय द्वारा पूरी की गईहै। मामले में दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद न्यायालय ने मामले के पांच आरोपी धनबाद जिला के निरसा विद्यासागर निवासी पति गौतम कुमार गुप्ता, प्रमोद गुप्ता, भरत गुप्ता, नेहा देवी एवं रवि गुप्ता को दहेज उत्पीड़न की धारा 498 ए में दोषी करार देते हुए 1 वर्ष के कारावास की सजा मुकर्रर की गई। जबकि 1 हजार रुपए अर्थदंड भी लगाया, अर्थदंड की राशि नहीं देने पर 1 माह के अतिरिक्त कारावास की सजा होगी।

क्या है घटना मिहिजाम थाना क्षेत्र के कांगोई निवासी विवाहिता रूपा देवी ने मिहिजाम थाने में कांड संख्या 99/ 17 दर्ज कराया था। दर्ज आवेदन में आरोप है कि पति सहित ससुराल के अन्य लोगों द्वारा 5 लाख रुपए दहेज की मांग की जाने लगी। मांग पूरी नहीं करने पर पति सहित ससुराल के अन्य लोगों द्वारा शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित की जाने लगी। घटना के दिन 1 जुलाई 2017 को सभी आरोपियों द्वारा जबरन जहरीला पदार्थ पिला देने का भी आरोप लगाया गया है।

पीड़िता की ओर से न्यायालय में कुल 6 गवाहों का गवाही दिया गया था। पीड़िता रूपा देवी की शादी गौतम कुमार गुप्ता के साथ 6 फरवरी 2017 को हुई थी। न्यायालय में बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता राकेश रंजन ने बहस पूरी की जबकि सरकार की ओर से सहायक लोक अभियोजक धनंजय पांडे ने दलील रखी थी।

खबरें और भी हैं...