पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भविष्य की चिंता:मिट्‌टी के लड्‌डू भेंट देकर उसके संरक्षण के प्रति बच्चाें ने लाेगाें काे किया जागरूक

नवडीहा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जागरूकता रैली में शामिल स्कूली छात्र। - Money Bhaskar
जागरूकता रैली में शामिल स्कूली छात्र।

जमुआ प्रखंड के सियाटांड़ के टटकारी अवस्थित वेव इंटरनेशनल स्कूल द्वारा मिट्टी संरक्षण हेतु ‘ मिट्टी के लड्डू ‘ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसका मुख्य उद्देश्य लोगों में पर्यावरण और तेजी से खत्म हो रही मिट्टी की उर्वरता के प्रति संवेदनशीलता बनाना है। विद्यालय के बच्चों ने लोगों को मिट्टी संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने हेतु जागरूकता रैली निकाली। जिसमें कक्षा छह से दसवीं तक के बच्चों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। रैली विद्यालय के परिसर से डेढ़ किलोमीटर दूर सियाटांड़ चौक पर पहुंची और पुनः वापस आई। बच्चों के हाथों में ‘सेव सोइल’ की तख्तियां भी थी। बच्चों ने इस कार्यक्रम को बिल्कुल ही अनोखे अंदाज़ में पेश किया।

बच्चों द्वारा मिट्टी के लड्डू बनाए गए और उनके बीच विभिन्न पौधे के बीज डाले गए। उसे रैली के दौरान रास्ते में मिलने वाले राहगीरों एवं अभिभावकों को मिट्टी के लड्डू भेंट किए और उनसे आग्रह किया की इसे कहीं परती खुले भूमि पर फेंक दें, जहां मिट्टी के लड्डू के बीज आगे चलकर एक छायादार वृक्ष का रूप ले सके।

पाैधराेपण करने की दी सलाह

बच्चों ने मिट्टी संरक्षण से पर्यावरण पर पड़ने वाले सकारात्मक परिवर्तन के बारे में जानकारी दी। वहीं प्राइमरी कक्षाओं के बच्चों ने विद्यालय व उसके आसपास के खाली जमीन पर शिक्षकों के मार्गदर्शन में पौधरोपण कर मिट्टी बचाओं आंदोलन में अपना बहुमूल्य योगदान दिया। स्कूल के प्रिंसिपल सूरज कुमार लाला ने मिट्टी बचाओ अभियान को समर्थन दिया।

उन्होंने बताया की ग्लोबल वार्मिंग और उसके पड़ने वाले दुष्प्रभाव के कारण हर साल बारिश में गिरावट आ रही है। जिससे मिट्टी को नुकसान पहुंच रहा है। कहा ‘मिट्टी बचाओ आंदोलन’ एक वैश्विक पहल है, जिसका मकसद लोगों को मिट्टी की बिगड़ती सेहत के बारे में जागरूक करना और इसमें सुधार लाने के प्रयासों को बढ़ावा देना है।

प्रधानमंत्री के नाम लेटर प्रतियोगिता आयोजित

बताया मिट्टी संरक्षण अभियान के तहत आगामी 27 जून को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम विद्यालय में लेटर राइटिंग प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। चयनित पांच विद्यार्थियों के पत्र को प्रधानमंत्री के पास पोस्ट किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...