पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आपातकाल पर कार्यक्रम:सांसद ने कहा- कांग्रेस की सरकार ने आपातकाल लगाकर लोकतंत्र को कलंकित किया था

गढ़वा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में उपस्थित सांसद और अन्य। - Money Bhaskar
कार्यक्रम में उपस्थित सांसद और अन्य।

शनिवार को भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी की अध्यक्षता में आरकेवीएस बीएड कॉलेज में 1975 में देशभर में लगे आपातकाल पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। भाजपा ने इसे काला दिवस के रुप में मनाया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता सांसद वीडी राम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की इंदिरा गांधी की सरकार ने देश में आपातकाल लगाकर देश को कलंकित करने का काम किया था।

उन्होंने कहा कि आपातकाल के दौरान देश भर में प्रमुख नेताओं के साथ-साथ पत्रकारिता पर भी रोक लगाया गया था। आज ही के दिन 25 जून 1975 में तत्कालीन इंदिरा सरकार ने लोकतंत्र की हत्या कर देश में आपातकाल की घोषणा की थी, जो भारतीय इतिहास का सबसे काला दिन था। लोकसभा के पूर्व प्रत्याशी जवाहर पासवान ने कहा कि आपातकाल लगने से देश के लोगों में आक्रोश भड़का था।

जिसके कारण तात्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी 1977 में आम चुनाव की घोषणा कर दी। उस समय आपातकाल के कारण ही कांग्रेस को सत्ता से हाथ धोना पड़ा था। भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी ने कहा कि राष्ट्रीय कार्यक्रम के दौरान भाजपा ने पूरे गढ़वा जिला में आपातकाल लगने को लेकर काला दिवस मनाया गया। इस दौरान जिला स्तर पर आपातकाल को लेकर गोष्ठी का आयोजन किया गया।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस सरकार ने कार्यक्रम में पूर्व विधायक गिरिनाथ सिंह, भाजपा नेता अलख नाथ पाण्डेय, सूरज गुप्ता, राजीव राज तिवारी, जिला सांसद प्रतिनिधि प्रमोद चौबे, अंजनी तिवारी, ओमप्रकाश तिवारी, मुकेश निरंजन सिन्हा, रितेश चौबे, राजीव रंजन तिवारी, विकास स्वदेशी, विवेकानंद तिवारी, कैलाश कश्यप, उमेश कश्यप, मिथिलेश तिवारी, विकास तिवारी, राजकुमार गुप्ता सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री संतोष दुबे ने किया।

खबरें और भी हैं...