पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्वास्थ्य व समाज कल्याण विभाग की समीक्षा:टोंटो प्रखंड में कार्य नहीं होने पर विशेष कार्य योजना संचालित करने का निर्देश

चाईबासा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पश्चिमी सिंहभूम जिला समाहरणालय स्थित सभागार में उपायुक्त अनन्य मित्तल के अध्यक्षता तथा उप विकास आयुक्त संदीप बक्शी, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सहित प्रखंड प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी व अन्य की उपस्थिति में स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग का संयुक्त समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। बैठक में स्वास्थ्य विभाग अंतर्गत मुख्य रूप से नीति आयोग के हेल्थ इंडिकेटर्स, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन तथा कोविड-19 टीकाकरण का अद्यतन प्रतिवेदन आधारित समीक्षा हुई। इस दौरान उपायुक्त के द्वारा उपर्युक्त तीनों कार्यक्रमों के सफल क्रियान्वयन तथा लक्ष्य के अनुरूप टोंटो प्रखंड में कार्य नहीं होने के आलोक में जिला स्तर से विशेष कार्य योजना बनाकर संचालित करने हेतु निर्देशित किया गया।

बैठक के दौरान समाज कल्याण विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं यथा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के प्रगति का समीक्षा करते हुए कन्यादान योजना अंतर्गत चालू माह में लक्ष्य के विरुद्ध 50% लाभार्थियों को योजना से जोड़ने तथा मातृत्व वंदना योजना अंतर्गत सीडीपीओ एवं एमओआईसी को समन्वय बैठक स्थापित कर लाभुक को चिन्हित करने एवं तीसरे किस्त की राशि का लाभ दिलाने का निर्देश दिया गया। समीक्षा उपरांत उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि समर कार्यक्रम अंतर्गत 0-6 माह के 194 अतिगंभीर कुपोषित बच्चों में से 22 तथा 6-59 माह के 251 बच्चों में से 90 बच्चों को एमटीसी में भर्ती कराया गया है।

उन्होंने बताया कि शेष बच्चों का पुनः जांच कर कुपोषण उपचार केंद्र में बेहतर इलाज हेतु भर्ती करने तथा कार्यक्रम तहत विभिन्न आयु वर्ग के एनीमिया से ग्रसित 58 जनों को बेहतर उपचार हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेफर करने उपरांत शेष बचे 302 जनों को भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र/जिला अस्पताल रेफरल सुनिश्चित करने के साथ ही प्रत्येक 15 दिन में सभी का अनुश्रवण करने का निर्देश दिया गया है।

चाईबासा नप ने ठेला वालों को सड़क छोड़ फुटपाथ पर दुकान लगाने का दिया आदेश

चाईबासा| नगर परिषद चाईबासा की एक टीम सोमवार को बाबा मंदिर के पास पहुंची। इस दौरान बाबा मंदिर के पास ठेला वाले दुकानदारों को हिदायत देते हुए सड़क छोड़कर लगाने का आदेश दिया। साथ ही दुकान के आसपास साफ सफाई करने की भी बात कही। टीम में सभी महिलाएं शामिल थी।इस दौरान नगर परिषद की टीम द्वारा सभी ठेला वालों को कहा कि ठेला के बाहर गंदगी फैली तो उसका जुर्माना भी ठेला वालों को देना होगा। साफ सफाई पर पूरा ध्यान रखें। साथ ही आपस में बकझक ना करें।

मालूम हो कि बाबा मंदिर के फुटपाथ पर ठेला लगाने वाले दुकानदारों द्वारा निरंतर साफ सफाई नहीं रखने की शिकायत नगर परिषद को मिली थी। जिसके बाद नगर परिषद की एक टीम पहुंचकर सभी ठेला वालों को सफाई पर ध्यान रखने का निर्देश दिया। नगर परिषद द्वारा दी गई डस्टबिन में ही अपना कचरा डंप करें, अन्यथा संबंधित दुकानदारों पर कार्रवाई करने की बात कही गई। इस दौरान दुकानदारों के साथ नगर परिषद की टीम की झड़प भी हुई।

खबरें और भी हैं...