पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शहर के 10 झोलाछाप पर कार्रवाई की मांग:कंपाउंडर बना फिजिशियन, आंख जांचने वाला नेत्र विशेषज्ञ बन करता रहा इलाज

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संवाददाता सम्मेलन में आईएमए अध्यक्ष डाॅ. जीसी मांझी, डा. सौरव चौधरी, डा. अखौरी सिन्हा व अन्य। - Money Bhaskar
संवाददाता सम्मेलन में आईएमए अध्यक्ष डाॅ. जीसी मांझी, डा. सौरव चौधरी, डा. अखौरी सिन्हा व अन्य।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की जमशेदपुर शाखा ने शहर के 10 डाक्टरों के नाम जारी कर उन्हें फर्जी (झोलाछाप) डाक्टर होने का आरोप लगाया है। कहा यह झोलाछाप बिना डिग्री के क्लीनिक में बतौर डाक्टर बड़ा बोर्ड लगाकर प्रैक्टिस कर रहे हैं। इनके गलत इलाज से मरीज अंतिम स्टेज में पहुंच जाते हैं तो कई मरीजों की मौत भी हो रही है।

आईएमए इन डाक्टरों की सूची सोमवार को जिले की डीसी को देकर इनके खिलाफ कार्रवाई की मांग करेगा। आईएमए भवन में रविवार शाम आयोजित संवाददाता सम्मेलन में अध्यक्ष डाॅ. जी सी मांझी ने बताया कि आरोपित डाक्टरों से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया गया तो कुछ ने कहा अभी व्यस्त हूं, गाड़ी चला रहा हूं। कहा-आईएमए सदस्य नहीं बनने पर यह झूठा आरोप लगाया जा रहा है।

आईएमए का आरोप- नर्स के रुप में काम करनी वाली महिला रोग विशेषज्ञ बन गई

आईएमए का आरोप है कि ये फर्जी लोग पहले कंपाउंडर थे जो अब डाक्टर बन गए हैं। नर्स के रूप में काम करनी वाली महिला रोग विशेषज्ञ बन गई है। आंख की जांच करने वाला तकनीशियन विशेषज्ञ डाक्टर की तरह दवा लिख रहे हैं। ये मरीजों को दी जाने वाली जीवन रक्षक स्टेरॉयड का अधिक डोज देकर तत्काल मरीजों को लाभ पहुंचाते हैं। बाद में मरीज की स्थिति खराब होती है तो विशेषज्ञ के पास पहुंचते हैं। पर तब तक काफी देर हो चुकी होती है।

यह हैं आरोपित डाक्टर

जिन झोलाछाप डॉक्टरों की सूची जारी की गई है उसमें किस्कू कांप्लेक्स में क्लीनिक चलाने वाले नेत्र विशेषज्ञ डाॅ. एसएन कुंभकार हैं। असल में ये तकनीशियन हैं।

  • डा. एमआई अंसारी - बारीडीह मार्केट: आरोप- कंपाउंडर से डाक्टर बन गए हैं।
  • डाॅ. सीमा परवीन - ओल्ड पुरुलिया रोड, जाकिर नगर मानगो में इनका क्लिनिक है। आरोप- नर्स से महिला रोग विशेषज्ञ बन गई।
  • डाॅ. सुखेंद्र कुमार - जनरल फिजिशियन, ब्रदर्स फार्मा, मानगो में बैठते हैं। आरोप - पहले कंपाउंडर थे।
  • डाॅ. रविशंकर - मेडिकल फिजियो,न्यू बाराद्वारी, साकची। आरोप - बतौर हड्डी रोग विशेषज्ञ इलाज कर दवा लिखते हैं।
  • डाॅ. अशोक मोहंती - कल्याणी क्लिनिक, काशीडीह जमशेदपुर। आरोप- कंपाउंडर से डाक्टर बने।
  • डाॅ. एमए जेना - शिफा क्लिनिक, गल्फ कंपलेक्श, आजाद नगर, मानगो। आरोप- नर्स से महिला रोग विशेषज्ञ बनी ।
  • डाॅ. एस. मौर्य - फिजिशियन - ड्रीम लैंड केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट, मेन रोड, मानगो। आरोप- एमबीबीएस की डिग्री फर्जी है।
  • डाॅ. सुबोध कुमार - एमडी, पेट रोग विशेषज्ञ। आरोप- फर्जी डिग्री।
खबरें और भी हैं...