पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऐसे कैसे बचेगी वर्दी की साख:बेटी की उम्र की लड़की से बोला एएसआई- तेरी अश्लील फोटो वायरल करें तब क्या होगा

जमशेदपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
क्यों भड़का एएसआई-  चेकिंग के दौरान युवक ने सेल्फी लेकर ऑफिस भेजी थी तस्वीर कि मैं लेट हो सकता हूं। - Money Bhaskar
क्यों भड़का एएसआई- चेकिंग के दौरान युवक ने सेल्फी लेकर ऑफिस भेजी थी तस्वीर कि मैं लेट हो सकता हूं।

मानगो चौक के पास गुरुवार सुबह 9 बजे जांच में बाइक के पकड़ाने पर एक व्यक्ति ने अपना सेल्फी लेकर ऑफिस के व्हाट्स एप ग्रुप में डाल दिया ताकि उसे बॉस की डांट न लगे। इसकी जानकारी अपनी सीनियर महिला कर्मचारी को दी। इसके बाद मदद के लिए पहुंची महिला कर्मचारी से ट्रैफिक बूथ पर बैठे एएसआई अरुण कुमार ने बदसलूकी की। कहा कि तुम्हारी अश्लील तस्वीर खींचकर वायरल करेंगे तो कैसा लगेगा? हम तुम्हारे साथ सेल्फी लेकर पति को भेज देते हैं तो वह तुम्हें छोड़ देगा। एएसआई की बातें सुनकर वहां मौजूद अन्य लोगों ने इसका कड़ा विरोध किया। यह देख एएसआई ने बाइक छोड़ दी।

एएसआई की टिप्पणी से आहत 29 वर्षीय युवती ने रोते-रोते एसएसपी को फोन पर घटना की जानकारी दी और फिर उनके कार्यालय पहुंचकर शिकायत कोषांग में जानकारी दी। एसएसपी की अनुपस्थिति में ग्रामीण एसपी मुकेश कुमार लुणायत युवती से मिले। रंजीत कुमार यादव ने बताया कि उनके पास इंश्योरेंस और पॉल्यूशन का पेपर नहीं था, जिसके लिए तीन हजार फाइन मांगा गया। रुपए नहीं होने पर फाइन देने में असमर्थता जताई और अपनी सीनियर को बुलाया।

रोते हुए युवती ने एसएसपी को बताई आपबीती

कदमा भटिया बस्ती निवासी युवती ने बताया - मैं रंजीत कुमार यादव के साथ पतंजलि का मार्केटिंग का काम करती हूं। गुरुवार को रंजीत ने फोन किया कि वह मानगो चेकिंग में पकड़ा गया है। उसे ऑफिस पहंचने में लेट होगी। उसने जांच पदाधिकारी के साथ अपनी सेल्फी लेकर ग्रुप में सत्यता के लिए भेजा। कुछ देर बाद मैं वहां पहुंची। मैंने मानगो के ट्रैफिक थाना के एएसआई अरुण कुमार सिंह से कम फाइन लेकर बाइक छोड़ने का अनुरोध किया।

इस पर वे अभद्र भाषा का प्रयोग करने लगे। एएसआई ने कहा कि हम तुम्हारे साथ सेल्फी लेकर पति को भेज देते हैं तो वह तुम्हें छोड़ देगा। फिर तुम्हारी अश्लील तस्वीर खींचकर वायरल करेंगे तो कैसा लगेगा? वहां से एसएसपी सर को फोन पर घटना की जानकारी दी। इसके कुछ देर बाद उनके साथी की बाइक को छोड़ दिया गया। एसएसपी सर एएसआई के खिलाफ कार्रवाई करें।

"जांच करने के दौरान व्यक्ति को रोका गया। उसने बिना मेरी अनुमति के तस्वीर खींचकर वायरल कर दी। जिसका विरोध करने पर महिला उनपर गलत आरोप लगा रही है।"

-अरुण कुमार सिंह, एएसआई ट्रैफिक थाना।

खबरें और भी हैं...