पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परिजनों ने कहा पुलिस ने की बेरहमी से पिटाई:पुलिस हिरासत में युवक की तबीयत बिगड़ी, हालत नाजुक

चक्रधरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चक्रधरपुर पुलिस पर एक युवक को पीट-पीटकर बेहोश करने का गंभीर आरोप लगा है। युवक की हालत नाजुक है और उसे बेहतर इलाज के लिए चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल ले जाया गया है। इस घटना के बाद युवक के घरवालों ने चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल और रेलवे अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया। परिजनों ने पुलिस कर्मी से धक्का मुक्की और गाली गलौज भी की। जिस युवक की पिटाई का आरोप पुलिस पर लगा है उस युवक का नाम मोहम्मद फैसल है। दरअसल चक्रधरपुर पुलिस टोटो से बैटरी चोरी के मामले में तफ्तीश में जुटी है। इसी क्रम में टोटो से बैटरी चोरी करने के आरोप में पुलिस मोहम्मद फैसल को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी।

इसी दौरान फैसल की तबीयत बिगड़ी, जिसके बाद पुलिस फैसल को लेकर अनुमंडल अस्पताल पहुंची। फैसल के घर वालों के आरोप के मुताबिक चक्रधरपुर एएसपी कपिल चौधरी ने पूछताछ के क्रम में मोहम्मद फैसल की ऐसी बेरहमी से पिटाई की कि वह बेहोश हो गया। बता दें कि दो दिन पहले चक्रधरपुर में एक नाबालिग को टोटो से बैटरी चुराते रंगे हाथ पकड़ा गया था। उसी नाबालिग के निशानदेही पर पुलिस की जांच जारी है। नाबालिग जिन युवकों का नाम पुलिस को बता रहा है पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

इधर, युवक के परिजनों ने घटना की सूचना पूर्व सीएम मधु कोड़ा और सांसद गीता कोड़ा से भी की है। घटना की सूचना पाकर पूर्व सीएम मधु कोड़ा और सांसद गीता कोड़ा चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने कहा कि आरोपी को पीटना न्यायालय संगत नहीं है। पुलिस ने युवक की पिटाई कर उसकी तबीयत बिगाड़ दी है, जो सरासर गलत है। जिला पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने कहा कि चक्रधरपुर थाना में पूछताछ के दौरान एक युवक की तबीयत बिगड़ने की जानकारी मिली है, उस मामले में जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...