पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पांवटा साहिब में गोरक्षकों की हड़ताल खत्म:SDM ने दिया लिखित आश्वासन, सड़कों पर घूम रहे गोवंश को भेजा जाएगा काउ सेंचुरी

पांवटा साहिब2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पांवटा साहिब में धरने पर बैठे गोरक्षकों से बात करते SDM पांवटा साहिब। - Money Bhaskar
पांवटा साहिब में धरने पर बैठे गोरक्षकों से बात करते SDM पांवटा साहिब।

हिमाचल के सिरमौर स्थित पांवटा साहिब में 2 सप्ताह बाद गोरक्षकों की हड़ताल शनिवार शाम को खत्म हो गई। गोरक्षकों की मांगों को पूरा करने के लिए SDM पांवटा साहिब ने लिखित आश्वासन दिया। जिसके बाद गोरक्षकों ने हड़ताल खत्म करने का निर्णय लिया।

SDM शाम को हड़ताल स्थल पर पहुंचे और हड़तालियों से बात की। इस दौरान गोरक्षकों ने SDM को अपनी मांगों से अवगत कराया। जिसमें सड़को पर घूम रहे गोवंश को पकड़कर काउ सेंचुरी भेजना, उनका लंपी वायरस के बचाव हेतु टीकाकरण शामिल रहा। जिस पर SDM ने कार्यकारी अधिकारी, नगर पालिका पांवटा साहिब को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

कहा कि यदि नगर पालिका क्षेत्र में कोई भी गोवंश सड़कों पर पाया जाता है तो इनका टीकाकरण करने व पशुपालन विभाग से फिटनेस सर्टिफिकेट लेने के पश्चात इन्हें काउ सेंचुरी भेजना सुनिश्चित करेंगे। इस संबंध में उन्होंने बताया कि विकास खंड के समस्त पंचायत प्रधानों, सचिवों, BDC सदस्यों के साथ बैठक की गई है।

सड़कों पर यदि कोई गोवंश पाया जाता है तो पंचायत प्रधान, सचिव आदि इनको पकड़कर काउ सेंचुरी भेजेंगे। इनको काउ सेंचुरी राजगढ़ भेजने का खर्च पंचायत की आकस्मिक निधि से किया जाएगा। इसके अतिरिक्त सड़कों पर घूम रहे गोवंश को पकड़ने के लिए दिनांक 3 से 4 अक्टूबर तक पंचायतों में अभियान चलाया जाएगा।

SDM द्वारा लिखित में दिया गए आश्वासन की प्रति।
SDM द्वारा लिखित में दिया गए आश्वासन की प्रति।

सड़कों पर घूम रहे गोवंश को काउ सेंचुरी भेजने का अभियान पूरे जिला में चलाने के लिए उपायुक्त सिरमौर को पत्र लिख दिया गया है। पंचायत प्रतिनिधियों व पंचायत सचिवों को निर्देश दिए गए हैं कि यदि कोई मालिक पशुओं को सड़कों पर छोड़ता है तो उन पर जुर्माना लगाया जाए।

लंपी वायरस की दवाई के बारे में होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. रोहताष नागिया से विचार विमर्श किया गया। पांवटा साहिब में काउ सेंचुरी खोलने के लिए प्रशासन ने पशुपालन विभाग को निर्देश दिए हैं। काउ सेंचुरी खोलने के लिए आवश्यक औपचारिकताएं पूर्ण कर आवश्यक कदम उठाएं।