पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पांवटा में गौरक्षकों का अनशन 7वें दिन जारी:अब बारी-बारी बैठेंगे धरने पर, गौवंशों को सुरक्षित स्थानों पर भेजने की मांग

पांवटा साहिब2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पांवटा साहिब में अनशन पर बैठे गौरक्षक। - Money Bhaskar
पांवटा साहिब में अनशन पर बैठे गौरक्षक।

हिमाचल के पांवटा साहिब में पिछले 7 दिनों से 4 गौ रक्षक परशुराम चौक पर अनशन पर बैठे हैं। गुरुवार को उन्होंने निर्णय लिया कि अब से वे बारी-बारी अनशन पर बैठेंगे पहले दिन सचिन ओबरॉय 24 घंटे के लिए अनशन पर होंगे। इसके बाद अगले दिन दूसरा गौ रक्षक क्रमिक अनशन पर बैठेगा और यह सिलसिला तब तक जारी रहेगा जब तक सभी गायों को सुरक्षा नहीं मिल जाती।

ये हैं प्रमुख मांगे

गौरक्षकों की मांग है कि सिरमौर की सड़कों से समस्त गोवंश को गौशाला/काऊ सेंचुरी पहुंचाया जाए। सड़कों पर गोवंश को छोड़ने वालों के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्यवाही की जाए। पांवटा साहिब में काऊ सेंचुरी खोली जाए। सिरमौर के सरकारी गोसदनों में व्यवस्था दुरुस्त की जाए।

पांवटा साहिब के होम्योपैथिक डॉक्टर डॉ रोहताश नागिया द्वारा निर्मित लंपी वायरस की दवाई को तुरंत प्रदेश भर के सभी गोपालकों तक पहुंचाया जाए। इस दवा का सफल ट्रायल कर पशुपालन विभाग के चिकित्सक अपनी रिपोर्ट दे चुके हैं। गोसेवकों को प्रताड़ित करना बंद किया जाए। पांवटा साहिब में पिछले वर्ष गोसेवकों के खिलाफ दर्ज झूठे मामले को खारिज किया जाए।