पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX61305.950.94 %
  • NIFTY18338.550.97 %
  • GOLD(MCX 10 GM)478990 %
  • SILVER(MCX 1 KG)629570 %
  • Business News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • The Convoy Left For Chhabra From Shimla At 10:45 In The Morning, In Solan Too There Was A Problem With The Jam Due To The High Number Of Vehicles.

मां सोनिया के बाद राहुल गांधी भी पहुंचे छराबड़ा:प्रियंका और उनके पति-बच्चों के साथ 3 दिन मनाएंगे छुटि्टयां, सोनिया सुबह तो राहुल पंजाब के नए सीएम चन्नी से मिलकर सड़क मार्ग से दोपहर बाद पहुंचे शिमला

शिमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधान राहुल गांधी सोमवार को छराबड़ा पहुंच गए। सोनिया गांधी सोमवार सुबह चंडीगढ़ से सड़क मार्ग के रास्ते शिमला पहुंचीं। उनके काफिले में तकरीबन 15 वाहन थे। सोलन-शिमला नेशनल हाईवे पर वाहनों की संख्या ज्यादा होने के कारण सोनिया गांधी को जाम से भी परेशान होना पड़ा। शिमला में तकरीबन 10:45 बजे उनका काफिला ढली से होते हुए छराबड़ा गया। उधर राहुल गांधी चंडीगढ़ में पंजाब के नए सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के बाद दोपहर 3 बजे छराबड़ा पहुंचे।

सोनिया और राहुल गांधी अगले 3 दिन छराबड़ा में प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ रहेंगे। पुलिस को जैसे ही सोनिया गांधी और राहुल के हिमाचल दौरे की सूचना मिली, पूरा महकमा अलर्ट हो गया। सुरक्षा प्रबंधों के तहत सोलन में परवाणू से लेकर शालाघाट तक हाईवे पर कई जगह पुलिस जवान तैनात किए गए। छराबड़ा में प्रियंका के घर के आसपास भी जवान तैनात हैं। घर के आसपास किसी को जाने की इजाजत नहीं है। खुफिया एजेंसियां भी अलर्ट मोड पर हैं। प्रियंका गांधी अपने पति रॉबर्ट वाड्रा और दोनों बच्चों के साथ शनिवार सुबह से छराबड़ा में हैं।

शिमला के ढली से होकर गुजरता प्रियंका गांधी का काफिला।
शिमला के ढली से होकर गुजरता प्रियंका गांधी का काफिला।

मार्च-2018 में भी आई थीं सोनिया

सोनिया गांधी इससे पहले 22 मार्च 2018 को बेटी प्रियंका वाड्रा के साथ शिमला पहुंची थी। उस समय छराबड़ा में प्रियंका गांधी के घर का काम चल रहा था और सोनिया उसे देखने पहुंची थीं। सोनिया ने मकान बना रहे कारीगरों से छत के आकार और मकान निर्माण के बारे में जानकारी ली थी। उस समय उनका कार्यक्रम पूरी तरह गोपनीय रखा गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं तक को इसकी भनक नहीं लगी।

अक्टूबर 2020 में आए राहुल गांधी

राहुल गांधी 30 अक्टूबर 2020 को शिमला पहुंचे थे। उस समय वह बिहार विधानसभा के चुनाव के बाद थकान मिटाने आए थे और छराबड़ा में 4 दोस्तों के साथ 2 दिन बहन प्रियंका के घर रुके। राहुल इस साल 9 जुलाई को भी शिमला पहुंचे और हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि देने के बाद अगले दिन 10 जुलाई को दोपहर 12:30 बजे छराबड़ा से दिल्ली लौट गए।

पंजाब नंबर की वह गाड़ी, जिसमें सोनिया गांधी शिमला पहुंचीं।
पंजाब नंबर की वह गाड़ी, जिसमें सोनिया गांधी शिमला पहुंचीं।

पहाड़ी शैली में बना है प्रियंका का मकान

प्रियंका गांधी ने अपना घर शिमला से 13 किलोमीटर दूर छराबड़ा में बनाया है, जो समुद्र तल से 8000 फीट की ऊंचाई पर है। यह घर पहाड़ी शैली में बना है और इसके अंदर और बाहर इंटीरियर के लिए देवदार की लकड़ी इस्तेमाल की गई है। मकान की छत पारंपरिक पहाड़ी शैली में स्लेट से बनी है। इसके आसपास हरियाली है और मकान के चारों तरफ पाइन के पेड़ लगाए गए हैं। घर के सामने बर्फ से ढंके पहाड़ नजर आते हैं। छराबड़ा एक टूरिस्ट प्लेस है जहां पंजाब-हरियाणा के लोग वीकएंड पर घूमने आते हैं।

छराबड़ा में प्रियंका गांधी का वह बंगला, जहां सोनिया और राहुल गांधी ठहरे हुए हैं।
छराबड़ा में प्रियंका गांधी का वह बंगला, जहां सोनिया और राहुल गांधी ठहरे हुए हैं।

जब पसंद नहीं आया तो दो बार तोड़ा बंगला

प्रियंका गांधी का बंगला साढ़े 4 बीघा जमीन पर 2008 में बनना शुरू हुआ। हिमाचल कांग्रेस के नेता केहर सिंह खाची के नाम पर इस जमीन की पावर ऑफ अटॉर्नी की गई। साल 2011 में दोमंजिला मकान बनने के बाद डिजाइन पसंद आने पर इसे तोड़ दिया गया। उसके बाद लोकल कंस्ट्रक्शन कंपनी को इसके निर्माण का काम दिया गया।

विवादों में भी रह चुका प्रियंका का यह घर

प्रियंका गांधी को मकान बनाने की छूट देने के लिए तत्कालीन हिमाचल सरकार ने लैंड रिफॉर्म्स एक्ट के सेक्शन 118 के नियमों में ढील दी। इस सेक्शन के अनुसार हिमाचल में बाहरी राज्यों के लोग जमीन नहीं खरीद सकते। वर्ष 2007 में इस जमीन की मार्केट कीमत लगभग 1 करोड़ रुपए प्रति बीघा थी, जबकि प्रियंका ने मकान बनाने के लिए 4 बीघा जमीन केवल 47 लाख रुपए में खरीदी।

खबरें और भी हैं...