पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

CM जयराम ठाकुर पर कांग्रेस का पलटवार:मुकेश अग्निहोत्री ने पंडित से कुंडली दिखाने की नसीहत दी; बोले- उखड़ने वाला है BJP का तंबू

शिमला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल में जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं। सत्तापक्ष और विपक्ष के एक दूसरे पर हमले बढ़ते जा रहे हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा कांग्रेस नेताओं को अपनी कुंडली दिखाने के बयान पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, सुखविंद्र सुक्खू और विक्रमादित्य सिंह ने पलटवार किया। अग्निहोत्री ने सीएम को किसी अच्छे पंडित से अपनी कुंडली दिखाने की नसीहत दी।

मुकेश ने कहा कि मुख्यमंत्री कांग्रेस की चिंता न करें। कांग्रेस का योग बदल रहा है और अभी श्राद्ध चल रहे हैं। नवरात्रों के बाद चुनाव होंगे, जिसमें कांग्रेस की स्थिर सरकार बनेगी। जयराम सरकार के तंबू अफसरशाही ने पकड़ा है, जोकि बुरी तरह से उखड़ने वाला है। सरकारी बैसाखियां जल्द बिखरने वाली हैं।

उन्होंने कहा कि जब ये सरकार पूरे यौवन पर थी, उस समय चार सीटों पर सत्तारूढ़ BJP उपचुनाव हार गई थी। अब भी स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ, उल्टा लोगों में सरकार के प्रति असंतोष बढ़ा है। कर्मचारी, पेंशनर, किसान, बागवान सब सड़कों पर आ गए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा गलतफहमी में न रहें।

सरकारी खजाने से ‌BJP की रैली करने का आरोप

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि जयराम ठाकुर सरकारी कोष का दुरुपयोग कर रहे हैं। सरकारी खजाने से अमृत महोत्सव के नाम पर भाजपा रैलियां कर रही हैं। एक रैली पर 50 लाख से ज्यादा खर्चा किया जा रहा है। सरकारी बसों को ग्रामीण रूटों से हटाकर जनता की परेशानी बढ़ाई जा रही है। बसों और रैली स्थल पर भाजपा के झंडे लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में सरकार 75 रैलियां सरकारी खर्च से कर रही है, जिसमें आंगनबाड़ी, आशा वर्कर्स और मनरेगा दिहाड़ीदारों को लाया जा रहा है। इससे राज्य पर कर्ज का बोझ ओर बढ़ता जा रहा है।

वीरभद्र पर सोच समझकर बोलने की सलाह

उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर सरकारी खजाने से खिलवाड़ की टिप्पणी पर सलाह देते हुए कहा कि कम से कम दिवंगत नेता पर इस तरह के आक्षेप न लगाए, जिन्होंने 30 साल तक इस प्रदेश की सेवा की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश जानता है कि जितना कर्ज पांच दशकों में नहीं लिया गया, उससे ज्यादा कर्ज जयराम ठाकुर ने पांच सालों में लिया है। उन्होंने कहा कि जब जय राम ठाकुर सत्ता से बाहर होंगे तब तक राज्य पर 85,000 करोड़ का कर्ज हो जाएगा।

जयराम को बताया होर्डिंग सीएम

मुकेश ने जय राम ठाकुर को होर्डिंग वाला मुख्यमंत्री करार दिया और कहा कि जय राम सरकार कोई विकास के काम नहीं कर पाई है लेकिन प्रदेश में हर चोराहों पर होर्डिंग जरूर लगाए जा रहे है। उन्होंने अफसरों को भी नसीहत देते हुए कहा कि वे अपनी सीमा में रह कर काम करें।

भविष्य वक्ता बन जाते है CM जय राम: सुक्खू

सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि मुख्यमंत्री भविष्य वक्ता बहुत जल्दी बन जाते हैं। उनके अपने घर की उजड़ चुकी है। वो बंजर बन गई है। इसे बंजर बनाने का कार्य सरकार ने पांच साल किया है। कांग्रेस पर आक्षेप लगाने से पहले सरकार को चार सीटों पर हुए उप चुनाव के रिजल्ट को ध्यान में रखना चाहिए।

कांग्रेस महासचिव विक्रमादित्य सिंह ने भी CM के स्व. वीरभद्र सिंह के बयान पर तीखा पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि यह बयान सरकारी की बौखलाहट को दिखाता है। उन्होंने कहा कि यदि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर अपने इन शब्दों को वापस नहीं लेते है तो उन्हें बहुत बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा।