पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

यमुनानगर में SHO-ASI को मारी गोली:2 भाइयों के विवाद में पहुंचे थे थाना छप्पर प्रभारी; हल्के बल प्रयोग के बाद आरोपी काबू

यमुनानगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसएचओ को गोली मारने के बाद अस्पताल में पहुंची पुलिस। - Money Bhaskar
एसएचओ को गोली मारने के बाद अस्पताल में पहुंची पुलिस।

हरियाणा में यमुनानगर जिले के कलांपुर गांव में गुरुवार शाम को 2 भाइयों के झगड़े में गोलियां चल गई। छप्पर थाने के एसएचओ पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे तो झगड़ा इतना बढ़ गया कि परमिंद्र नामक बड़े भाई ने ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं। उसकी गोलियों की चपेट में छप्पर थाने के प्रभारी (SHO) जगदीश बिश्नोई और रामकुमार नामक ASI भी आ गया। टांगों में गोलियां लगने के बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। फायरिंग में एक गोली परमिंद्र के छोटे भाई राजेंद्र के सिर को भी छूकर निकल गई। हालांकि उसकी हालत खतरे से बाहर है। पुलिस ने गोलियां चलाने वाले परमिंद्र को पकड़ लिया।

उधर एसएचओ को गोली मारे जाने की सूचना आते ही यमुनानगर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर भेजा गया। पुलिस ने पूरे क्षेत्र को घेर लिया। मामले की जानकारी मिलने के बाद यमुनानगर के एसपी कमलदीप गोयल ने मौके का मुआयना किया और अस्पताल में दाखिल एसएचओ और सिपाही से मिलने पहुंचे।

घटना की जानकारी देते यमुनानगर के एसपी कमलदीप गोयल।
घटना की जानकारी देते यमुनानगर के एसपी कमलदीप गोयल।

एसपी कमलदीप गोयल ने बताया कि यमुनानगर के कला्पुर गांव में परिंद्र और राजेंद्र नामक भाइयों में जमीन के विवाद को लेकर झगड़ा हो गया। इस झगड़े में बड़े भाई परमिंद्र ने अपने छोटे भाई राजेंद्र पर गोलियां चला दीं। एक गोली राजेंद्र के सिर और दूसरी गोली दोनों भाइयों की मां को छूकर निकल गई। झगड़े में गोलियां चलने की सूचना मिलते ही छप्पर थाने के प्रभारी (SHO) जगदीश बिश्नोई अपनी टीम के साथ कलांपुर गांव पहुंच गए।

एसपी के अनुसार, जब पुलिस वहां पहुंची तो हालात बेहद खराब हो चुके थे और कई लोगों की जान जा सकती थी। गोलियां चलाने वाले परमिंद्र ने पुलिस को धमकी दी कि अगर कोई उसके नजदीक आया तो वह गोली मार देगा। SHO जगदीश बिश्नोई दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास कर ही रहे थे कि आरोपी परमिंद्र ने अपने वैपन से हवाई फायर कर दिया। इस पर SHO जगदीश बिश्नोई ने परमिंद्र का हाथ पकड़ लिया। इसके बाद परमिंद्र ने पुलिस पर सीधी गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इस फायरिंग में SHO जगदीश बिश्नोई और ASI रामकुमार की टांगों में गोलियां लगी।

एसपी कमलदीप गोयल के अनुसार, मौके पर मौजूद पुलिस वालों ने हल्का बल प्रयोग करते हुए आरोपी परमिंद्र को काबू कर लिया। पुलिस के बल प्रयोग में आरोपी परमिंद्र को भी चोटें आईं। पुलिस उसका इलाज करवा रही है। गोलियां लगने से घायल SHO जगदीश बिश्नोई, ASI रामकुमार और परमिंद्र को भी अस्पताल पहुंचाया गया। बाद में SHO और ASI का हाल जानने एसपी अस्पताल पहुंचे और उनसे वारदात का ब्यौरा लिया।