पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिरसा में पति-पत्नी ने की खुदकुशी:MP से मजदूरी करने आए थे दोनों; निर्माणाधीन मकान में फंदे पर लटके मिले

सिरसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पति पत्नी के फंदा लगाने की सूचना पर पहुंचे लोग। - Money Bhaskar
पति पत्नी के फंदा लगाने की सूचना पर पहुंचे लोग।

हरियाणा के सिरसा में बरनाला रोड स्थित ईरा ग्रुप में निर्माणाधीन मकान में दिहाड़ी मजदूरी करने वाले पति-पत्नी ने फंदा लगाकर जान दे दी। मृतक सोनू (20) और उसकी पत्नी जसोदा (20) मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले के गांव मेदिनीपुरा के रहने वाले हैं और यहां मजदूरी करते थे। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल में भेजा है। दोनों के आत्महत्या करने का कारण घरेलू कलह बताया जा रहा है। पुलिस छानबीन कर रही है।

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश निवासी सोनू और उसकी पत्नी जसोदा पिछले काफी समय से सिरसा में ही रह कर मजदूरी कर रहे थे। जसोदा का पिता व भाई भी यहीं पर हैं। हालांकि सोनू के परिजन मध्यप्रदेश में रहते हैं। पति पत्नी फिलहाल ईरा ग्रुप के निर्माणाधीन मकान में काम कर रहे थे।

दोनों ने मंगलवार रात को विवाद के बाद निर्माणाधीन मकान में लोहे के एंगल पर चुन्नी से फंदा लगा लिया। कमरे से शोर आने के बाद सड़क पर घूम रहे लोगों ने मकान की पहली मंजिल पर रहने वाले मजदूरों को मामले की जानकारी दी। इसके बाद साथी मजदूर उपर पहुंचे तो दोनों की मौत हो चुकी थी।

सोनू के परिजनों का इंतजार

सिविल लाइन थाना प्रभारी अमित बेनीवाल ने बताया कि दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल में भेजा गया है। मृतकों के परिजनों के बयान के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की टीमें घटनास्थल पर छानबीन में लगी हैं। फिलहाल आत्महत्या के पीछे का कारण घरेलू कलह बताया जा रहा है। सोनू के परिजनों के आने के बाद दोनों शवों का पोस्टमार्टम होगा।

केस- 2: नशे से युवक की मौत

सिरसा के एक दूसरे मामले में डबवाली सदर थाना क्षेत्र के गांव सकताखेड़ा में नशे की ओवरडोज से युवक की मौत हो गई। मृतक गुरप्रीत का शव गांव के बूस्टिंग स्टेशन में मिला। 30 वर्षीय गुरप्रीत के हाथ में इंजेक्शन लगा हुआ मिला है। मृतक खेतीबाड़ी करता था और हेरोइन के नशे का आदि था। घटना की सूचना मिलने पर सदर डबवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल में पहुंचाया।