पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिकायत के बाद भी सड़क की मरम्मत नहीं:नाहड़ कॉलेज के तिराहे से गांव तक क्षतिग्रस्त हुई सड़क, गहरे गड्ढों से हादसे का भी सताने लगा है डर

रेवाड़ी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक तरफ सरकार जहां गांव-गांव तक सड़क बनाने का दावा कर रही है, लेकिन दूसरी तरफ बनाए हुई सड़कों की मरम्मत तक नहीं कराई जा रही है। ऐसा ही हाल नाहड़ कॉलेज तिराहे से नाहड़ गांव तक बने हुए रोड की भी हालत खस्ता है।

कोसली-नाहड़ मार्ग पर कॉलेज मोड़-तिराहे से नाहड़ गांव तक सड़क पूरी तरह क्षतिग्रस्त है। इसमें जगह-जगह पर बड़े-बड़े गहरे गड्ढे बने हुए हैं। इन गड्ढों के कारण हादसे भी होते रहते हैं। जिससे लोगों को जान माल का खतरा बना हुआ है। इसके चलते लोगों में भारी रोष व्याप्त है।

ग्रामीण हरिसिंह, सूबेसिंह, रामकुवार, राजसिंह, महेंद्र सिंह, उमेद व सोमबीर ने बताया कि तिराहे से नाहड़ की तरफ एक किलोमीटर का हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है। जबकि भारी वाहनों के चलते तिराहे-मोड़ के आसपास की पूरी सड़क धंस गई है। कई बार उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन अधिकारियों की ओर से आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला है। वो बात अलग है कि कभी वीआईपी के आगमन पर पेचवर्क कर दिया जाता है।

इधर, लोक निर्माण विभाग के जेई जेई युद्धवीर सिंह और प्रदीप सुहाग ने बताया कि इस रोड को बनाने के लिए टेंडर दिया गया था, जिसने मुख्यत तिराहे के पास इसको अधूरा छोड़ दिया था। अब दूसरी एजेंसी को यह रोड दुरुस्त करने के लिए अनुबंधित किया हुआ है। जल्दी ही इसे ठीक करने का कार्य शुरू हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...