पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पानीपत में 4 बच्चों के पिता की दर्दनाक मौत:ई-रिक्शा का चार्जर हटाते वक्त लगा करंट, 30 साल से परिवार के साथ पानीपत में रह रहा था करनाल का तेजपाल

पानीपत9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेजपाल का फाइल फोटो। - Money Bhaskar
तेजपाल का फाइल फोटो।

पानीपत में ई-रिक्शा को चार्जिंग से हटाते समय करंट लगने से एक शख्स की मौत हो गई। करंट लगने से बेसुध हो जाने पर परिवारवाले उसे अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। मरने वाले का नाम तेजपाल है और 30 साल से पानीपत की वधावा राम कॉलोनी में रह रहा था। उसके परिवार में पत्नी के अलावा 4 बच्चे हैं।

मूल रूप से करनाल के रामनगर का रहने वाला 42 साल का तेजपाल पिछले 30 बरसों से अपने परिवार के साथ पानीपत की वधावा राम कॉलोनी में रह रहा था। तेजपाल अपने परिवार के भरण-पोषण के लिए ई-रिक्शा चलाता था। वह ज्यादातर बस अड्‌डे से वधावा राम कॉलोनी की सवारियां ही उठाता था।

पानीपत सिविल अस्पताल में विलाप करते तेजपाल के परिजन।
पानीपत सिविल अस्पताल में विलाप करते तेजपाल के परिजन।

चीखने का मौका भी नहीं मिला
तेजपाल के पड़ोसी ने बताया कि रोजाना की तरह उसने मंगलवार रात को घर पहुंचने के बाद अपनी ई-रिक्शा को चार्जिंग पर लगा दिया। बुधवार सुबह जब वह चार्जर हटाने गया तो हादसा हो गया। पड़ोसियों के अनुसार, करंट का झटका इतना तेज था कि तेजपाल को चीखने तक का मौका नहीं मिला।करंट लगने के बाद तेजपाल काफी देर तक वहीं पड़ा रहा।

चार बच्चों और पत्नी का बुरा हाल
तेजपाल के परिवार में पत्नी के अलावा 18 साल की बेटी, 16 साल की बेटी तन्नू, 15 साल का बेटा सत्यम और 12 साल का बेटा शिवम है। पूरे परिवार की जिम्मेदारी तेजपाल पर थी। परिवार के मुखिया की असमय मौत से सबका रो-रोकर बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं...