पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मासूम को राहत:पानीपत में बंधनमुक्त कराई बच्ची को कोरोना वार्ड में कराया भर्ती, NGO संचालक से मांगा जवाब

पानीपत2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मकान की खिड़की से बाहर झांकती बच्ची। - Money Bhaskar
मकान की खिड़की से बाहर झांकती बच्ची।
  • लोगों की शिकायत के बाद जेजे बोर्ड ने सिद्धार्थ नगर से बच्ची को कराया था मुक्त

मॉडल टाउन के सिद्धार्थ नगर से बंधनमुक्त कराई गई मंदबुद्धि बच्ची को मंगलवार को सिविल अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया। बाल कल्याण समिति ने NGO संचालक और बच्ची के केयर टेकर तेजपाल से बच्ची को इस तरह रखने के संबंध में जवाब मांगा है। संचालक का जवाब मिलने के बाद बाल कल्याण समिति की ओर से कार्रवाई की जाएगी।

मॉडल टाउन थाना क्षेत्र के सिद्धार्थ नगर के लोगों की शिकायत पर जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड की सदस्य मालती अरोड़ा ने पुलिस की मदद से सोमवार देर रात को एक करीब पांच साल की मंदबुद्धि बच्ची को मुक्त कराया था। इस बच्ची को बीते पांच दिनों से एक मकान में बंद करके रखा गया था। यह मकान NGO संचालक तेजपाल ने किराए पर ले रखा है। शहर में मिलने वाले गुमशुदा बच्चों का एड्रेस ट्रेस होने तक बाल कल्याण विभाग की ओर से उन्हें तेजपाल के पास रखा जाता है। इससे पहले तेजपाल इन बच्चों को उझा रोड स्थित मकान में रखता था। पांच दिन पहले ही तेजपाल ने अपना NGO सिद्धार्थ नगर में शिफ्ट किया था।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि NGO संचालक का बच्ची के प्रति व्यवहार ठीक नहीं है। आसपास के लोग ही बच्ची को खाना और कपड़े देते रहे हैं। गुरुवार को बच्ची का कोरोना टेस्ट कराया गया था। शनिवार को रिपोर्ट पॉजिटिव मिली।

जवाब मिलने के बाद होगी कार्रवाई
बाल कल्याण समिति के अफसरों का कहना है कि बच्ची को इस तरह रखने के संबंध में NGO संचालक तेजपाल से जवाब मांगा गया है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर संचालक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ भविष्य में तेजपाल को गुमशुदा बच्चे सौंपने पर भी विचार किया जाएगा।