पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्वास्थ्य विभाग का पंचकूला एमटीपी पर छापा:फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया में रिकॉर्ड न मिलने पर कई दवाइयां जब्त

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनिल विज। - Money Bhaskar
अनिल विज।

हरियाणा सरकार के खाद्य एवं औषधि विभाग की टीम ने वीरवार शाम को पंचकूला में मेसर्स फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया के दफ्तर पर छापा मारा। यह दफ्तर पंचकूला में 62-सी, हरिपुर, गली नंबर-14 में है। टीम ने यहां नियमों की उल्लंघना पाते हुए कई दवाइयों के सैंपल लिए और दवाओं को जब्त कर सील कर दिया।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ​​​​​​ के अनुसार, पंचकूला के डीसीओ परवीन कुमार और डिप्टी सीएमओ डॉ. विकास गुप्ता की टीम ने एमटीपी किट/एलोपैथिक दवाओं की खरीद/बिक्री/इस्तेमाल के निरीक्षण के लिए मेसर्स फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया की पंचकूला ब्रांच पर छापा मारा।

टीम ने इस केंद्र में मनोज कुमार नामक शख्स को पाया जिसने खुद को इस सेंटर का महाप्रबंधक बताया। टीम ने जब परिसर की तलाशी लेनी शुरू की तो दूसरी मंजिल पर एक कमरे में नशीला पदार्थ रखा मिला। मनोज कुमार ने बताया कि उनका एमटीपी केंद्र पंचकूला के सिविल सर्जन की ओर से रजिस्टर्ड है और यहां स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. नितिका गोयल प्रेक्टिस करती हैं। तलाशी के दौरान परिसर में कई दवाओं का स्टॉक मिला। इनमें ए-करे किट मात्रा-369 किट, Atocin-500 टैबलेट, मिसो-करे की 1512 टैबलेट मिली।

रिकाॅर्ड नहीं दिखा पाया

टीम के सामने मनोज कुमार इन दवाओं की खरीद का रिकॉर्ड पेश नहीं कर सका। इस पर डीसीओ की टीम ने जांच के लिए फॉर्म-17 के तहत तीन तरह के नमूने ले लिए। शेष दवाओं को जब्त कर फॉर्म-15 के तहत सील कर दिया गया। यह सेंटर रजिस्टर्ड डॉक्टर के नाम की जगह परिवार नियोजन संघ भारत के नाम पर दवाओं की खरीद कर रहा है।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा सरकार ने नशे में दुरुपयोग होने वाली दवाइयों, अवैध रूप से एमटीपी किट बेचने वालों, नर्सिंग होम्स में अवैध दुकानों और अवैध कार्यों में लिप्त रक्त केंद्रों के खिलाफ अभियान चलाया हुआ है।