पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • Local
  • Haryana
  • Government Invitation Letter Objection Raised On Not Being Named On Foundation And Integration Stone

अफसरशाही से नाराज सांसद-विधायक:हरियाणा में सरकारी निमंत्रण पत्र और फाउंडेशन स्टोन पर नाम न छपने पर जताई आपत्ति

सनमीत सिंह थिंद\ चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आईएएस संजीव कौशल। - Money Bhaskar
आईएएस संजीव कौशल।

हरियाणा के सांसद और विधायक सरकारी कार्यक्रमों के निमंत्रण पत्रों में नाम न होने से सरकार के अफसरों से नाराज हैं।

सांसदों और विधायकों ने मुख्य सचिव को शिकायतें भी की है कि जब उनके संसदीय क्षेत्र या विधानसभा क्षेत्र में सरकारी कार्यक्रमों में फाउंडेशन स्टोन, उद्धघाटन के सरकारी कार्यक्रम होते हैं तो निमंत्रण पत्र में उनके नाम मिसिंग होते हैं।

सीएमओ ऑफिस ने भी मुख्य सचिव को इस संबंध में सूचित किया है। लिहाजा अब किसी भी सरकारी निमंत्रण पत्र पर और फाउंडेशन स्टोन लगाने से पहले उस पर लिखे शब्दों की अनुमति पीएस टू सीएमओ और पीएसआईपीआर से ली जाएगी।

मुख्य सचिव ने लिखा पत्र

सांसदों और विधायकों की नाराजगी का मामला नोटिस में आने के बाद हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी संजीव कौशल ने सभी डीसी, प्रशासनिक सचिव और एचओडी को तुरंत प्रभाव से पत्र जारी किया है। चीफ सेक्रेटरी के पत्र के अनुसार, उनके ध्यान में सांसदों और विधायकों ने सरकारी कार्यक्रमों में निमंत्रण पत्र में नाम गायब होने की बात आई है।

इसलिए प्रशासनिक सचिव इस बात पर सख्त निर्देश दें कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। मुख्य सचिव ने अपने पत्र में लिखा है कि सीएमओ ऑफिस के अधिकारियों ने बताया कि कुछ केसों में इनविटेशन कार्ड, फाउंडेशन स्टोन, इनोग्रेशन स्टोन पर शब्द अंकित करवाने से पहले उनकी अनुमति नहीं ली गई।

इसलिए अब सभी अधिकारी इस बात का ध्यान रखें कि आगे से प्रत्येक कार्यक्रम में निमंत्रण पत्र, फाउंडेशन स्टोन पर शब्द अंकित करवाने से पहले उसकी प्रिंसिपल सेक्रेटरी टू सीएम और पीएसआईपीआर से अनुमति लें।