पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60416.1-0.56 %
  • NIFTY17979.5-0.74 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

डाचर-जलमाना सड़क का मामला:घटिया पेवर ब्लाॅक लगा सही से नहीं की टॉपिंग, मिट्टी डाल ब्लाॅक लगाने के आरोप

निसिंग2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव की फिरनी पर लगाए हैं पेवर ब्लाॅक

निसिंग एरिया के गांव डाचर से जलमाना की तरफ जाने वाली सड़क व गांव की फिरनी पर पेवर ब्लाक लगाकर रास्ते का निर्माण मार्केटिंग बोर्ड की तरफ से करीब 15 दिन पहले किया गया है, लेकिन इतने कम समय में ही गांव की फिरनी पर लगे पेवर ब्लाक टूटने लगे है और गांव में कहीं पर भी पेवर ब्लाकों की सही तरीके से टॉपिंग नहीं की गई। पूरे मामले की शिकायत सीएम विंडो व डीसी करनाल को भी की गई है। मार्केटिंग बोर्ड के अधिकारियों व संबंधित ठेकेदार ने काम में लापरवाही बरती है। जिस कारण महज 15 दिन में ही सड़क से बजरी व पेवर ब्लाक के साइडों में की गई टॉपिंग में से बजरी व सीमेंट निकलना शुरू हो गई है। ग्रामीणों का आरोप है कि संबंधित ठेकेदार ने विभाग के अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर मोटी रकम की धांधली की है। जबकि काम में कहीं पर भी मानकों पर खरा उतरने वाली सामग्री नहीं लगाई गई है। ग्रामीणों में वागिश शर्मा, अनिल शर्मा, सुबे सिंह, श्याम लाल, रोशन लाल, ओमप्रकाश जांगड़ा, धीरज, विक्की व महेंद्र सहित अन्य का कहना है कि गांव में सड़क निर्माण में विभाग व ठेकेदार ने महज खानापूर्ति की है। सड़क व गांव की फिरनी पर पेवर ब्लाकों को सही तरीके से नहीं लगाया गया है। जगह जगह पर ब्लाकों के पास से रेत व बजरी बाहर निकल आई है। जिस कारण ब्लाक भी अपनी जगह छोड़ गए है। आरोप है कि ठेकेदार ने काम में सीमेंट की मात्रा बिल्कुल कम रखी जिस कारण अभी से ब्लाक से बना रास्ता कंडम होना शुरू हो गया है।

15 दिन में गांव की फिरनी पर लगे पेवर ब्लाॅक भी टूटने लगे, बजरी निकली बाहर
ग्रामीणों का आरोप है कि विभाग की लापरवाही ठेकेदार ने काम को सही तरीके से नहीं किया और संबंधित अधिकारियों की मिलीभगत से पूरे गड़बड़झाले को चेक तक नहीं किया गया। अधिकारियों की लापरवाही ग्रामीणों के लिए परेशानी खड़ी होगी। पेवर ब्लाक भी घटिया किस्म की सामग्री इस्तेमाल किया है, जिस कारण कई जगहों से ब्लाक टूटने शुरू हो गए है। इसके साथ जहां जहां पर पेवर ब्लाकों की टॉपिंग का काम हुआ है। वहां अभी से सीमेंट व बजरी उखड़ना शुरू हो गई है। वहीं कई जगहों पर तो ब्लाकों के नीचे पत्थर की बजाय केवल मिट्टी ही डाली गई है।
सड़क पर बिना सफाई के तारकोल डालने के आरोप

सड़क पर बिना सफाई के तारकोल डालने के आरोप
ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार ने सड़क निर्माण में भी लापरवाही बरती है। पैसा कमाने के लालच में सड़क को सही तरीके से तैयार नहीं किया है। यदि सड़क की हाई- लेवल पर जांच की जाए तो कई संबंधित अधिकारियों व ठेकेदार पर गाज गिर सकती है। आरोप है कि ठेकेदार ने सड़क बनाते समय रास्ते से मिट्टी की सही तरीके से सफाई नहीं की। जिस कारण सड़क की मियाद ज्यादा नहीं रहेगी। वहीं जहां जहां बरम तैयार की है उसमें अभी भी मोटे पत्थर पड़े है।

मापदंडों के आधार पर ही काम किया गया है। काम में पूरी क्वालिटी और सामान की मात्रा पूरी रखी गई है। जो आरोप है वह सभी निराधार है। काम को नियमों के अनुसार ही किया गया है।
-मनोज, निर्माण संबंधित ठेकेदार।

अभी काम अधूरा है। पूरे रास्तों को चेक किया जाएगा, यदि कहीं कोई दिक्कत है तो उसको ठीक कराया जाएगा। ग्रामीणों को कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी।
नरेंद्र कुमार, जेई, मार्केटिंग बोर्ड, निसिंग।

खबरें और भी हैं...