पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

करनाल में सिख समाज का रोष मार्च:हाथों में भिंडरावाले के पोस्टर लेकर जपा सतनाम वाहेगुरु; राष्ट्रपति के नाम भेजा ज्ञापन

करनालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन में शामिल सिख समाज के लाेग।

हरियाणा के जिला करनाल में सोमवार को सिख समाज के लोगों ने रोष मार्च निकाला। इस दौरान सतनाम वाहेगुरु का पाठ करते हुए शांति व भाईचारा बनाए रखने की अपील की गई। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भेजकर धर्म व जाति के नाम पर होने वाले दंगों पर रोक लगाने की मांग की गई। सिख समाज के लोग पहले डेरा कार सेवा करनाल में इकट्‌ठे हुए।

वहां से रोष मार्च निकालते हुए जिला सचिवालय तक पहुंचे। प्रदर्शनकारी हाथों में भिंडरावाले की तस्वीर लिए हुए थे। रोष मार्च को देखते हुए जिला सचिवालय पर पुलिस बल को तैनात किया गया था। पिछले दिनों करनाल में सिख समाज के ऊपर टिप्पणियां हुई थीं। सेक्टर-13 में स्कॉर्पियो गाड़ी के शीशे पर भिंडरावाले की तस्वीर होने के कारण तोड़फोड़ की गई।

प्रदर्शन में शामिल सिख समाज के लोग।
प्रदर्शन में शामिल सिख समाज के लोग।

सभी धर्मों ने मिलकर देश बनाया

जगदीप औलख ने बताया कि समाज में लगातार भाईचारा और धार्मिक माहौल बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है। सरकार को ध्यान दिलाना है कि ऐसा करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाए, ताकि देश में भाईचारा बना रहे। सभी धर्मों ने मिलकर इस देश को बनाया है तो उसको बनाकर रखा जाए। इसके लिए ही रोष मार्च निकाला गया है। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा गया है।

हमारे बच्चे कंट्रोल में हैं

हरपाल सिंह ने बताया कि सभी बिरादरियों से हाथ जोड़कर विनती करते हैं। जिस तरह हमने अपने बच्चों को कंट्रोल किया हुआ है, वे भी अपने बच्चों को कंट्रोल में रखें। कोई गलत नारा नहीं लगाना। हर बिरादरी के बच्चे यहां पर रहते हैं। सभी अपने बच्चों को समझाएं। हम सब भारत देश के वासी हैं।

दो-तीन बार हो चुकी घटनाएं

हैप्पी औलख ने बताया कि भाजपा ने यूपी व अन्य प्रदेशों की तरह हरियाणा में भी दंगे कराए हैं। ऐसी घटनाओं को बंद करने के लिए रोष मार्च निकाला है। ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। पिछले कुछ समय में दो-तीन घटनाएं हो चुकी हैं। सामाजिक भाईचारा कायम रहे और ऐसे तत्वों को सरकार सहयोग न करे।

यूथ अकाली दल के प्रदेश प्रधान ने रखे विचार।
यूथ अकाली दल के प्रदेश प्रधान ने रखे विचार।

36 बिरादरी बनाए भाईचारा

यूथ अकाली दल के प्रदेश प्रधान सुरेंदर रामगढ़िया द्वारा पिछले काफी समय से एक नारा देकर सिख समाज पर अटैक किया जा रहा है। हम हमेशा शांति चाहते हैं। इस देश में रहकर शांतिप्रियता चाहते हैं। सामाजिक भाईचारे को कायम रखने के लिए सिख समाज के लोग इकट्‌ठा हुए हैं। रोष मार्च 36 बिरादरी के भाईचारे को बनाए रखने के लिए निकाला गया है। सिख धर्म अकाल तख्त से आने वाले आदेश का पालन करता है।

शरारती तत्वों ने बिगाड़ा माहौल

अमृतपाल बुग्गा ने बताया कि कुछ शरारती लोगों द्वारा घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। चाहे वे किसी भी धर्म के लोग हैं, कार्रवाई की जाए, ताकि हमारे समाज का भाईचारा न बिगड़े। गाड़ी के शीशे तोड़े गए थे, उनकी शिकायत भी की गई है।